Friday , June 21 2024
ताज़ा खबर
होम / व्यापार / देश का यह बड़ा बैंक बदलना चाहता है अपना नाम, RBI पक्ष में नहीं!

देश का यह बड़ा बैंक बदलना चाहता है अपना नाम, RBI पक्ष में नहीं!

देश का यह बड़ा बैंक अपना नाम बदलना चाहता है. लेकिन आरबीआई इसके पक्ष में नहीं है. दरअसल, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने आईडीबीआई बैंक के नाम में बदलाव के प्रस्ताव का समर्थन नहीं किया है.

सूत्रों के मुताबिक आईडीबीआई बैंक के निदेशक मंडल ने पिछले महीने बैंक का नाम बदलकर एलआईसी आईडीबीआई बैंक या एलआईसी बैंक करने का प्रस्ताव किया. भारतीय जीवन बीमा निगम के अधिग्रहण के बाद निदेश मंडल ने बैंक का नाम बदलने का प्रस्ताव दिया था.

सूत्रों की मानें आरबीआई, आईडीबीआई बैंक का नाम बदलने के पक्ष में नहीं है. निदेशक मंडल ने एलआईसी आईडीबीआई बैंक लिमिटेड नाम को तरजीह दिया था. दूसरे विकल्प के रूप में एलआईसी बैंक लिमिटेड नाम दिया था. आरबीआई के अलावा नाम में बदलाव के लिए कारपोरेट कार्य मंत्रालय, शेयरधारकों, शेयर बाजारों समेत अन्य से मंजूरी की जरूरत होती है.

उल्लेखनीय है कि जनवरी में सार्वजनिक क्षेत्र की बीमा कंपनी एलआईसी ने आईडीबीआई बैंक के 51 फीसदी हिस्सेदारी का अधिग्रहण पूरा कर लिया है. पिछले साल अगस्त में मंत्रिमंडल ने बैंक के प्रवर्तक के रूप में एलआईसी को आईडीबीआई बैंक में नियंत्रणकारी हिस्सेदारी के अधिग्रहण की मंजूरी दी थी.

वहीं आरबीआई ने आईडीबीआई बैंक को निजी क्षेत्र के बैंक की श्रेणी में रख दिया है. भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के आईडीबीआई बैंक में बहुलांश हिस्सेदारी के अधिग्रहण के बाद यह कदम उठाया गया है. LIC ने संकट में फंसे IDBI बैंक में नियंत्रणकारी 51 फीसदी हिस्सेदारी का अधिग्रहण जनवरी में पूरा किया.

इस मुद्दे पर आरबीआई ने कहा, ‘रिजर्व बैंक ने नियामकीय मकसद से 21 जनवरी 2019 से आईडीबीआई बैंक को निजी क्षेत्र के बैंक की श्रेणी में रखा है. एलआईसी के आईडीबीआई बैंक में चुकता शेयर पूंजी का 51 प्रतिशत अधिग्रहण के बाद बैंक को निजी श्रेणी में डाला गया है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)