Sunday , June 23 2024
ताज़ा खबर
होम / मध्य प्रदेश / कर्मचारियों के 8वे वेज रिवीजन कराने बीएमएस का विराट प्रदर्शन फाउंड्री गेट पर

कर्मचारियों के 8वे वेज रिवीजन कराने बीएमएस का विराट प्रदर्शन फाउंड्री गेट पर

भोपाल। भारतीय मजदुर संघ के नेतृत्व में आज 17 दिसम्बर को सैकड़ो की तादात में भेल कर्मचारी अपने 8वे वेज रिविजन सीघ्र कराने हेतु विराट विरोध प्रदर्शन शाम 4 बजे फाउंड्री गेट पर किया। कर्मचारीगण अपने मांगो की तख्तियां लिए खूब नारेवाजी किया। तख्तियों में वेज वार्ता हेतु जेसिएम के लगातार बैठक करके अंतिम रूप प्रदान करने की मांग भी शामिल है। यह प्रदर्शन 26 दिसम्बर तक एक दिन के अंतराल में जारी रहेगा। बीएमएस का वेज रिविजन के लिए यह 74 वे आंदोलन है और इसी क्रम में 19 दिसम्बर को वीआईपी गेट पर प्रदर्शन किया जायेगा।
 कार्पोरेट प्रबंधन ने कर्मचारियों के वेज वार्ता हेतु 11 दिसंबर 2018 को देर शाम कॉर्पोरेट प्रबंधन ने एक परिपत्र जारी कर कहा था कि वेज रिविजन हेतु संयुक्त समिति की  “21.12. 2018 को होने वाली बैठक किसी कारणवश अगले तिथि तक रद्द किया जाता है”। जिसके बाद भेल भोपाल में कर्मचारियों की बीच काफी रोष फैलने लगा था। दिनांक 12.12.2018 को बीएमएस यूनियन के पदाधिकारी, कार्यकर्ता एवं सैकड़ो कर्मचारियों ने प्रेरणा  भवन पहुँचकर कॉर्पोरेट प्रबंधन द्वारा जारी परिपत्र के खिलाफ अपना रोष प्रकट करते हुए एच आर विभाग का घेराव किया था।
कर्मचारियों ने प्रबंधन से पूछा था कि हमारे वेज रिविजन के लिए 21.12.2018 के जेसीएम को क्यों रद्द किया गया, 21 दिसम्बर के पहले जेसिएम क्यों नही प्रिपोंड किया गया। जबकि प्रबंधन अपने अधिकारीयों के पे रिवाइज करके बढे हुए वेतन का लाभ एचआरए सहित सितंबर माह से ले रहे है ये कहाँ का न्याय है कि काम बताने वाला अधिकारियो को बढे हुए वेतन से लाभान्वित किया जा रहा है और काम करने वाले कर्मचारियों के वेज वार्ता का डेट निरस्त कर टाला जा रहा है। जबकि वेज रिविजन 1.1.2017 से लंबित है और भारतीय मजदूर संघ 27 दिसम्बर 2016 को चार्टर ऑफ़ डिमांड सौपा है और तब से 73 चरण का आंदोलन कर चुका है।
इसके पश्चात ही 10 जनवरी 2019 को जेसिएम तय किया गया था।  बीएमएस पदाधिकारियों ने कहा कि भेल के 20 हजार कार्मचारियों का वेज रिविज़न किसी एक केंद्रीय नेता अथवा अधिकारी के कारण रद्द नहीं किया जाना चाहिए, साथ ही जल्द से जल्द वेतन वार्ता का शेउडुल एक साथ तीन से चार दिनों की बैठक की तिथि घोषित किया जाए ताकि भेल कर्मचारियों का वेतन समझौता का निर्णय अंतिम रूप से किया जा सके।
ज्ञात हो कि भारतीय मजदूर संघ द्वारा कर्मचारियों के 8वें वेज रिविजन, अनुकंपा नियुक्ति एवं ग्रिभान्स हेतु अगस्त क्रांति का विशाल आंदोलन खड़ा किया जिसके कारण वेज वार्ता प्रारम्भ हुई थी। परंतु नं. 1 यूनियन के सेंट्रल लीडर के उदासीनता एवं प्रबंधन के मजदूर विरोधी मानसिकता के कारण पिछले बैठकों में कोई सकारात्मक निर्णय नही हो सका।
यूनियन के उपाध्यक्ष सतेन्द्र कुमार ने कहा कि बीएमएस द्वारा चार्टर ऑफ डिमांड के अनुरूप कर्मचारियो के वेज रिविजन अति सीघ्र करने हेतु पांच चरण के आंदोलन का आगाज किया। जिसमें भेल के प्रमुख गेटों पर विरोध प्रदर्शन किया जायेगा।
19,21,23,26 दिसम्बर 18 को विशाल प्रदर्शन हेतु आह्वान किया गया है। अगर इस बार कर्मचारी हित में निर्णय कर वेज रिविजन नही किया गया तो बीएमएस उग्र आंदोलन करने को बाध्य होगी जिसमें कारखाने के अंदर एवं बाहर विरोध प्रदर्शन, टूल डाउन एवं हड़ताल शामिल है जिसकी जिम्मेदारी प्रबंधन की होगी।
कार्यक्रम में यूनियन के रोहित कुमार, संजय चौधरी,मंत्री प्रदीप अग्रवाल,  नितिन कोंडे, पी सी ठाकुर, रमेश कुराडिया, विजय सिंह रावत, जगदीश मालवीय, अश्वनी मौर्य, रामनंदन सिंह, इमरान अली, संतोष अहिरवार, धर्मेंद्र कुमार, अमित साहू, ए रमेश, संजय साह, गजेंद्र बंछोड़, श्रीकांत ताम्रकार ,कैलाश मालवीय, मयूर, दीपक यादव ,पी मूर्ति ,विवेक शर्मा, दयाल सिंह राणावत, शरद बिलास, कमलेश यादव ,अतुल तिवारी, बृजेश मोर्य, चंद्रशेखर चौहान, शेखर लिल्हारे, शिशुपाल यादव, मेहर चंद ,रवि अहिरवार , शेखर लिल्हारे, सचिन, प्रभात, प्रकाश पाटिल, दिनेश करण, राकेश कोल , लक्ष्मण प्रसाद, हरपाल सिंह राजपूत, सतीश पाल, सुनील सिंह, प्रहलाद पटेल, आनंद गौतम ,संजय गुप्ता, विनोद मौर्य , अमृतलाल साकेत, रवि अहिरवार, इंद्रेश शर्मा, ओम चौधरी, चंद्रेश पटेल, सतीश नामदेव, शैलेंद्र सिंह, योगेश राठौर, महेश कुमार, के रामू, यशवंत शेरके, राजेश बर्मन पवन कुशवाहा, टिकेश बिसेन, भीमराव चौकीकर, मुकेश शर्मा, रंजीत जैसवार, राहुल रंजन, गजानदं लिल्हारे, नरेंद्र पटले, दिनेश सिंह, अमन वर्मा, विश्वराज आनंद ,अमित कश्यप, रामनारायण कुमावत, अमित देशमुख, मनोज बिंद, रोहित मालवीय, अमित सनोरिया , राजेश बर्मन ,पवन कुशवाहा आशीष, संजय सिंह, एवं भारी संख्या में यूनियन के कार्यकर्त्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)