Thursday , June 20 2024
ताज़ा खबर
होम / ग्लैमर / “जो हमारे कमरे में घुसने की हिम्‍मत करता है, वह पूरी तरह रोस्‍ट होने के लिये तैयार होता है’’

“जो हमारे कमरे में घुसने की हिम्‍मत करता है, वह पूरी तरह रोस्‍ट होने के लिये तैयार होता है’’

“जो हमारे कमरे में घुसने की हिम्‍मत करता है, वह पूरी तरह रोस्‍ट होने के लिये तैयार होता है’’, यह बातें पवित्रा पुनिया ने सोनी सब के ‘बालवीर रिटर्न्‍स’ के शूटिंग के दिनों को याद करते हुए कही

लॉकडाउन होने और शूटिंग पर रोक लगे होने के कारण टेलीविजन सितारों को घर पर बैठकर आराम करने और अपने परिवार के साथ वक्‍त बिताने का समय मिल गया है। कुछ लोग इस समय को जी भरकर जी रहे हैं तो कुछ अपने को-स्‍टार्स को मिस कर रहे हैं और सेट पर वापस लौटने का इंतजार कर रहे हैं।

सोनी सब का फैंटेसी शो ‘बालवीर रिटर्न्‍स’ के सभी कलाकार बेहद शानदार है। इसमें दो जादुई दुनिया वीर लोक और काल लोक को दिखाया गया है। काल लोक में रहने वाले लोगों ने परदे पर आतंक मचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। वैसे, ऑफ-स्‍क्रीन पवित्रा पुनिया, आदित्‍य रणविजय, अतुल वर्मा और श्रीधर वत्‍सर की यह पूरी गैंग सबसे ज्‍यादा मस्‍ती और शैतानी करने वालों के रूप में जानी जाती है। इन एक्‍टर्स के बीच बेहद ही खास रिश्‍ता है और ऐसे समय में उन्‍हें एक-दूसरे की याद सता रही है।

काल लोक के सदस्‍यों के बारे में बताते हुए, तिमनासा का किरदार निभा रहीं, पवित्रा पुनिया कहती हैं, “काल लोक में हम चारों लोग बेस्‍ट फ्रेंड की तरह हैं। ‘बालवीर रिटर्न्‍स’ की पूरी यूनिट में, हम ही ऐसे हैं जो पूरे दिन हंसते रहते हैं। हम कभी भी अकेले अपने कमरे में नहीं बैठे रहते और हमेशा किसी ना किसी के कमरे में जमे रहते हैं। हम साथ में खाते हैं, सोते हैं और शूटिंग करते हैं। अभी जबकि हम शूटिंग नहीं कर रहे हैं, मुझे उनकी और भी याद आ रही है। खासकर उस खाने की जो वे मेरे लिये घर से लाया करते थे। आदित्‍य घर पर बने स्‍पेशल शेज़वान सॉस लेकर आते थे और वह बहुत ही स्‍वादिष्‍ट होता है और हम सभी उसके दीवाने हैं। श्रीधर जी की पत्‍नी ‘मूंग दाल की भाजी’ बनाती हैं, यह एक हेल्‍दी सूखी सब्‍जी होती है और मैं उनसे सारा छीन लेती थी और खुद चट कर जाती थी। अतुल खुद खाना बनाते हैं, इसलिये वह कुछ बेहद ही स्‍वादिष्‍ट चीजें लेकर आया करते थे और हमें एक साथ मिलकर लंच करने में बड़ा मजा आता था।”

सेट की बहुत ही बेहतरीन बातें याद करते हुए, पवित्रा कहती हैं, ‘’सारे लोग उस कमरे में जाने से डरते थे, जहां हम चारों होते थे। जो हमारे कमरे में घुसने की हिम्‍मत करता है, वह पूरी तरह रोस्‍ट होने के लिये तैयार होता है । वह ऐसा था कि हमारे कमरे के बाहर एक अदृश्‍य नोटिस बोर्ड लगा था कि ‘कृपया अंदर तभी आयें जब आप रोस्‍ट होना चाहते हैं’, लेकिन वह सबकुछ मजाक के रूप में है।”

वह आगे कहती हैं, “काल लोक में सभी मुझे ‘मम्‍मी‘ बुलाते हैं और वो मेरे साथ काल लोक की मां की तरह व्‍यवहार करते हैं। यदि मैं सेट पर एक दिन भी नहीं होती हूं तो वे मुझे कॉल करके बताते हैं कि मेरे बिना शूटिंग करने में क्‍या–क्‍या परेशानियां आयीं। इसकी तुलना किसी चीज से नहीं की जा सकती।”

जबदाली की भूमिका निभा रहे अतुल वर्मा कहते हैं, ‘’काल लोक गैंग हमेशा ही हंसते रहने पर यकीन करता है। हम आमतौर पर मजाक के लिये श्रीधर सर की टांग खिंचाई किया करते थे या ऐसे ही एक-दूसरे की शक्‍ल देखकर जोर-जोर से हंसा करते थे। ये ऐसी बातें हैं जिनकी हमें सबसे ज्‍यादा याद सता रही है। इन दिनों हम एक-दूसरे को वीडियो कॉल कर बात करते हैं।” ‘बालवीर रिटर्न्‍स’ के सेट की खास यादों के बारे में बताते हुए अतुल कहते हैं, “सेट पर काल लोक के साथ काम करना सबसे मजेदार है। डायरेक्‍टर्स भी कहते हैं कि काल लोक के साथ शूटिंग करने में ज्‍यादा मजा आता है, क्‍योंकि हमने कभी भी ऐसे एक्‍टर्स नहीं देखे हैं जोकि एक साथ हंसते हैं और एक साथ खाते हैं, लेकिन काम को लेकर भी गंभीर हैं। यह बात सच है कि हम चारों की दोस्‍ती कमाल की है और हमें एक साथ वक्‍त बिताना अच्‍छा लगता है। यदि हममें से कोई भी शूटिंग पर नहीं आता तो हमें अधूरा महसूस होता है। हम दिल से चाहते हैं कि शूटिंग पर वापस जायें। हमारे दर्शक भी नये एपिसोड मिस कर रहे हैं, इसलिये एक बार जब सबकुछ सामान्‍य हो जायेगा हम उनके लिये वापस आयेंगे।”

तौबा-तौबा का किरदार निभा रहे श्रीधर वत्‍सर अपने को-स्‍टार्स को याद करते हुए कहते हैं, “भले ही मैं वीर लोक में डूबा-डूबा और काल लोक मैं तौबा-तौबा की दोहरी भूमिका निभा रहा हूं, लेकिन मैं काल लोक गैंग के ज्‍यादा करीब हूं। हम सबको एक-दूसरे की याद सता रही है, लेकिन हम नियमित रूप से एक-दूसरे से फोन पर बात करते हैं। कई बार तो देर रात 2-3 बजे भी बात कर लेते हैं और एक घंटे या उससे भी ज्‍यादा देर तक हमारी बातें चलती रहती हैं। हमारी दोस्‍ती बहुत ही खास है और निश्चित तौर पर यह परदे पर भी नज़र आता है। साथ ही मुझे काल लोक की शूटिंग करने में काफी मजा आता है क्‍योंकि यहां करने को काफी सारी चीजें होती हैं। मैं पहले से भी ज्‍यादा जोश और ताजगी के साथ शूटिंग पर वापस जाने का इंतजार कर रहा हूं।”

भयमार की भूमिका निभा निभा रहे, आदित्‍य रणविजय कहते हैं, ‘’हम चारों का रिश्‍ता किसी जादू से कम नहीं है और एक-दूसरे से अलग रह पाना मुश्किल है। सेट पर हम सब हमेशा एक साथ होते हैं, सुबह की चाय से लेकर शाम को सेट छोड़ने तक। हम रोज ही एक-दूसरे पर प्रैंक किया करते थे, लेकिन हर कोई इसे सहजता से ही लेता था। मैं घर के बने लड्डू लेकर जाया करता था, जिसे सेट पर सभी खाते थे। अब जबकि हम शूटिंग नहीं कर रहे हैं, सब लड्डू मिस कर रहे होंगे। मैं उम्‍मीद करता हूं कि जल्‍द ही हम शूटिंग शुरू कर पायें। मैं सभी लोगों से विनती करता हूं कि घर पर रहें और सुरक्षित रहें।‘

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)