Wednesday , February 28 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / छलका रघुवर दास का दर्द, कहा- नामदार ने कामदार को हरा दिया

छलका रघुवर दास का दर्द, कहा- नामदार ने कामदार को हरा दिया

जमशेदपुर:
कार्यवाहक मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि जमशेदपुर पूर्वी विधान सीट पर उनके खिलाफ षड्यंत्र रचा गया और दुष्प्रचार किया गया. नामदारों ने मिलकर एक कामगार को हराया. लोगों को बरगलाया गया कि रघुवर दास फिर जीत गये, तो बस्तियों को तोड़वा देंगे. मंगलवार को रांची से जमशेदपुर पहुंचे रघुवर दास ने सिदगोड़ा स्थित सूर्य मंदिर परिसर सोनमंडप में जमशेदपुर पूर्वी और पश्चिमी के मंडल अध्यक्षों के साथ बैठक कर चुनाव परिणाम की समीक्षा की. उन्होंने कहा कि षड्यंत्र और दुष्प्रचार की राजनीति कभी-कभी सफल हो जाती है, लेकिन सच्चाई सामने आकर रहती है. कहा कि उनके परिवार के बारे में गलत प्रचार किया गया. जात-पात की राजनीति की गयी.

कार्यकर्ताओं की मेहनत के लिए दिया साधुवाद : रघुवर दास ने पार्टी कार्यकर्ताओं को उनकी मेहनत-परिश्रम के लिए साधुवाद दिया और कहा कि जनप्रतिनिधि के रूप में उन्होंने पूरी निष्ठा व ईमानदारी के साथ अपनी जिम्मेदारी का निर्वाह किया. अपने पांच वर्षां के कार्यकाल में 14 वर्ष तक सरकार बनाने का खेल करनेवालों की दलाली, कमीशनखों री नहीं चली, ट्रांसफर-पोस्टिंग का खेल नहीं हो पाया. इसी के खिलाफ पूरे राज्य के बिचौलिया-भ्रष्टाचारी सक्रिय हो गये. उनका एक ही उद्देश्य था रघुवर दास को सत्ता से हटाओ. जमशेदपुर पूर्वी में जिस तरह दुष्प्रचार किया गया, चरित्र हनन का काम किया गया. सूर्य मंदिर जैसी पवित्र जगह को बदनाम करने के साथ-साथ उनके परिवार को बदनाम करने की कोशिश की गयी.

उन्होंने कहा कि जनता आज भी भाजपा के साथ है. भाजपा के कार्यकर्ता सत्ता को एक साधन मानते हैं. राष्ट्र निर्माण का हम सबने जो संकल्प लिया है, उसे आगे बढ़ाने और राज्य को आगे ले जाने में हमेशा अपनी जिम्मेदारी निभाते रहेंगे. राज्य का विकास कैसे हो, पूर्वी क्षेत्र विस क्षेत्र मेरी आज भी प्राथमिकता में है आगे भी रहेगी. पूर्वी क्षेत्र की जनता को किसी तरह की कोई तकलीफ न हो, इसका वे ध्यान रखेंगे. श्री दास ने कहा कि वे एक लाइन में कहना चाहेंगे कि नामदार लागों ने एक कामदार, एक मजदूर को षड्यंत्र कर हराने का काम किया.

हमारे कार्यकर्ताओं को मिल रही है धमकी : रघुवर दास ने कहा कि यह भी सूचना मिल रही है कि हमारे कार्यकर्ताओं को धमकी दी जा रही है. वैसे लोगों को वे चेतावनी देना चाहते हैं कि दुष्प्रचार करके चुनाव जीत गये, लेकिन हमारे कार्यकर्ताओं के पास अब अगर फोन पर धमकी आया, तो इसका माकूल जवाब देंगे. इसका वे भी ध्यान रखेंगे और प्रशासन को भी रखना चाहिए. उन्होंने बस्तियों में अच्छी-अच्छी सड़कें बनायी, बस्तियों में टाटा का पेयजल, पानी-बिजली की सुविधा उपलब्ध करायी. लोग सेंटीमेंट में बह गये. इतना काम कराया, लोगों को भी समझना चाहिए. षड्यंत्र-दुष्प्रचार की राजनीति कभी-कभी सफल हो जाती है, लेकिन वह टिकती नहीं है. सच्चाई बाहर आकर रहेगी. श्री दास एग्रिको स्थित आवास में कुछ देर रुके, इसके बाद रांची के लिए रवाना हो गये कि दो दिन बार वे फिर लौट कर आयेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)