Monday , June 24 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / राबड़ी से मिले शत्रुघ्न, पार्टी के नाम पर फिर नहीं खोला पत्ता, पीएम मोदी पर भी बरसे

राबड़ी से मिले शत्रुघ्न, पार्टी के नाम पर फिर नहीं खोला पत्ता, पीएम मोदी पर भी बरसे

पटना।

बीजेपी सांसद व फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा अचानक पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से मिलकर बिहार के राजनीतिक गलियारे में हलचल मचा दिया है। बीजेपी से नाराज चल रहे पटना साहिब के सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने गुरुवार को अचानक राबड़ी आवास पहुंच गए। हालांकि एक बार फिर उन्होंने पार्टी के नाम पर पत्ता नहीं खोला। उन्होंने कहा कि फिलहाल मैं अभी बीजेपी में ही हूं और अब तक मुझे किसी ने पार्टी से नहीं निकाला है।

बता दें कि पिछले सप्ताह 2 मार्च को शत्रुघ्न सिन्हा ने लालू प्रसाद यादव से रांची में जाकर मुलाकात की थी। उसी दिन रांची में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भी थी, लेकिन उनसे मुलाकात नहीं हो सकी थी। गुरुवार को बिना नाम लिए शत्रुघ्न सिन्हा ने अपने पुराने अंदाज में एक बार फिर पीएम नरेंद्र मोदी को निशाना बनाया। कहा कि अच्छे काम के लिए कप्तान को ताली मिलती है तो गलत कामों के लिए भी ताली कप्तान को ही मिलेगी।

राबड़ी देवी से मुलाकात करने के बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने मीडिया के सामने फिर पार्टी को लेकर पत्ता नहीं खोला। उन्होंने साफ कहा कि वे पारिवारिक कारणों से राबड़ी देवी से मिलने आए थेे। इस क्रम में उन्होंने तेजस्वी यादव व मीसा भारती से भी मुलाकात की। उन्होंने कहा कि आज उनसे पॉलिटिक्स पर कोई बात नहीं हुई है। बस परिवार के संबंध में चर्चा हुई है।

उन्होंने कहा कि पिछले सप्ताह शनिवार को मैं राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से भी मिलने गया था। इस फैमिली से मेरा गहरा लगाव है। यह लगाव हमेशा बना रहेगा। हालांकि मीडिया के कुरेदे जाने पर उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी पर कटाक्ष करने से नहीं चूके।

सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि पॉलिटिक्स में मेरी सिच्युएशन जो भी हो, लेकिन मेरा लोकेशन पटना साहिब ही होगा। उन्होंने साफ कहा कि पटना साहिब से ही मैं चुनाव लड़ूंगा। किस पार्टी से पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि फिलहाल मैं बीजेपी में ही हूं और अब तक मुझे पार्टी से निकाला नहीं गया है। उन्होंने राफेल मामले पर पीएम नरेंद्र मोदी का बिना नाम लिए कहा कि अच्छी चीजों के लिए ताली कप्तान को मिलती है तो नकारात्मक चीजों के लिए गाली कौन खाएगा। गाली भी कप्तान को ही मिलेगी।

गौरतलब है कि शत्रुघ्न सिन्हा दो मार्च को रांची के रिम्स में इलाज करा रहे लालू प्रसाद यादव से मिले थे। उस दिन भी उन्होंने लालटेन थामेंगे या हाथ, इस पर पत्ता नहीं खोला था। उन्होंने इतना ही कहा था कि जल्द ही कोई बड़ा ऐलान होगा। हालांकि इसी बीच पाकिस्तान मुद्दे पर उन्होंने पीएम मोदी की प्रशंसा की। लेकिन एक बार फिर शत्रुघ्न सिन्हा ने गुरुवार को राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव से मुलाकात कर सबको चौंका दिया है और अब लोगों को इंतजार है उनके पत्ते खोलने का।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)