Saturday , May 25 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / मसूद अजहर के ऑडियो से खुली पोल- आतंकियों के लिए UN में कश्मीर पर बोला PAK

मसूद अजहर के ऑडियो से खुली पोल- आतंकियों के लिए UN में कश्मीर पर बोला PAK

हिंदुस्तान के खिलाफ जहर उगलने वाला जैश-ए-मोहम्मद का सरगना मसूद अजहर ने अपने नए ऑडियो में पाकिस्तान की पोल खोल दी है. अपने नए ऑडियो में वो पाकिस्तान की नीति तय करता है. इस ऑडियो में मसूद अजहर न सिर्फ संयुक्त राष्ट्र (यूएन) में पाकिस्तान के संबोधन पर बात कर रहा है बल्कि कश्मीर को लेकर इमरान खान की सरकार को नसीहत भी दे रहा है. अजहर ने पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी की यूएन में कश्मीर राग की जमकर तारीफ की.

बता दें कि शाह महमूद कुरैशी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में कश्मीर का मुद्दा उठाते हुए कहा था कि यह एक ऐसा अनसुलझा विवाद है, जो 70 वर्षों से इंसानियत पर दाग है. उन्होंने आगे कहा कि यह अनसुलझा विवाद भारत और पाकिस्तान के बीच स्थायी शांति हासिल करने पर असल डाल रहा है.

ऑडियो में क्या कहा मसूद अजहर ने   

मसूद ने कहा, ‘आज की मजलिश का खुलासा. आज कुछ बातें दुनिया के हालात पर होंगी, मसलन उलेमा-ए इकराम के खिलाफ साजिश, यूएन में मसला ए कश्मीर की गूंज, ईरान की बौखलाहट. इस साल यूएन की जनरल असेंबली के सालाना इजलास में पाकिस्तान के वज़ीरे खरिज़ा की तकरीर काबिले तारीफ थी.  हम जहां हुकूमत की गलत नीतियों की आलोचना करते रहते हैं वहीं हमें अच्छे काम की तारीफ भी करनी चाहिए. जैसे कश्मीर मसले की पुरजोर वकालत, मसला ए फिलिस्तीन की हिमायत पर हुकूमत ए पाकिस्तान शुक्रिया के मुस्तहिक़ है.’

6 दिन के अंदर दूसरा ऑडियो

मसूद अजहर ने 6 दिन पहले भी एक ऑडियो जारी किया था. इसमें वह भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया. मसूद ने कहा कि अगर पाकिस्तानी सरकार उन पर लगे हुए प्रतिबंध हटा देती है, तो उसके कश्मीरी मुजाहिद्दीन हिंदुस्तान को सबक सिखा सकते हैं

मसूद अजहर ने कहा कि सरकार 6 महीने के लिए सभी बंदिशे हटा ले तो हम इंडिया को उसी की भाषा में जवाब देंगे. उसने कहा कि हिंदुस्तान ऊपर-ऊपर से धमकी देता है, लेकिन खुद भी खौफ से भरा है. भारत और पाकिस्तान के बीच शुरू हो रही बातचीत की कोशिशों पर भी मसूद अजहर ने टिप्पणी की. उसने कहा कि भारत की ताकतवर लॉबी के दबाव में ही पाकिस्तानी सरकार भारत के साथ बात करती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)