Saturday , April 13 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / दिवाली पर केदारनाथ पहुंचे मोदी, कभी हर साल करते थे बाबा के दर्शन

दिवाली पर केदारनाथ पहुंचे मोदी, कभी हर साल करते थे बाबा के दर्शन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को दिवाली के मौके पर केदारनाथ धाम पहुंचे और भगवान के दर्शन तथा पूजा-अर्चना की. मंदिर के कपाट बंद होने से दो दिन पहले मंदिर के दर्शन करने पहुंचे पीएम मोदी के साथ उत्तराखंड की राज्यपाल बेबीरानी मौर्य, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह भी मौजूद रहे.

इससे पहले पीएम मोदी ने उत्तराखंड हर्षिल में चीन से लगने वाली सरहद पर सैनिकों के साथ दिवाली मनाई. जवानों के बीच दिवाली मनाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केदारनाथ धाम पहुंचे, जहां उन्होंने मंदिर के गर्भ गृह में पूरे विधि-विधान से रुद्राभिषेक किया.

कभी हर साल आते थे मोदी

मंत्रोच्चार के बीच पीएम मोदी ने जल, घी, शक्कर, शहद, भस्म, फलों के रस, काले तिल, केसर, हल्दी आदि से भगवान का अभिषेक किया. पीएम ने मंदिर में करीब 20 मिनट तक पूजा की. पीएम ने भावविभोर होकर मंदिर की परिक्रमा भी की. मोदी केदारनाथ के कपाट बंद होने से एक दिन पहले यहां पहुंचे हैं और 1990 तक मोदी हर साल केदारनाथ के दर्शन करने आते थे.

हैलिपैड से पैदल पहुंचे मंदिर

भगवान की पूजा के बाद पीएम मोदी ने आपदा से प्रभावित केदारपुरी के विकास कार्यों पर एक फोटो प्रदर्शनी देखी. नई केदारपुरी के बारे में पीएम मोदी ने कुछ निर्देश भी दिए. मोदी की यात्रा को लेकर मंदिर को भी भव्य तरीके से सजाया गया था. पीएम मोदी तय कार्यक्रम के उलट हैलीपैड से गाड़ी में नहीं बल्कि पैदल ही मंदिर पहुंचे. पूरे रास्ते उन्होंने पुनर्निर्माण के काम का जायजा लिया.

पीएम मोदी ने मुख्य मंदिर तक पहुंचने वाले चौड़े रास्ते और पुराने चबूतरे के आकार से ढाई गुना से ज्यादा बड़े नए चबूतरे के निर्माण का उद्घाटन किया. इसके साथ ही साल 2013 की आपदा में कहर बरपाने वाली मंदाकिनी और सरस्वती नदियों पर बने घाट समेत पुनर्निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया. पिछली बार पीएम मोदी ने करोड़ों रुपये की 5 पुनर्निर्माण परियोजनाओं का शिलान्यास किया था.

जवानों के बीच क्या बोले मोदी

हर्षिल छावनी क्षेत्र में जवानों को शुभकामनाएं देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि वे अपनी प्रतिबद्धता और अनुशासन के जरिए 125 करोड़ भारतीयों के सपने एवं भविष्य को सुरक्षित करते हैं और लोगों में सुरक्षा और निडरता का भाव पैदा करने में मदद करते हैं.

जवानों और दिवाली के दौरान जलने वाले दीयों की तुलना करते हुए उन्होंने कहा, ‘दुनिया को रोशनी देने के लिए जिस तरह दीया स्वयं को जलाता है उसी तरह आप भी देश की सुरक्षा करने के लिए अपने जीवन का बलिदान देते हैं.’

2019 से पहले काम पूरा चाहते हैं मोदी

बर्फबारी समेत मौसम की मुश्किलों के बीच केदारनाथ में पुनर्निर्माण किया जा रहा है. कर्नल अजय कोठियाल और उनकी टीम केदारनाथ के पुनर्निर्माण को अंतिम रूप दे रही है. प्रधानमंत्री मोदी 2019 के चुनाव से पहले केदारनाथ पुनर्निर्माण को पूरा करना चाहते हैं. इसीलिये पीएम मोदी लगातार केदारनाथ पुनर्निर्माण पर नजर बनाए हुए हैं. माना जा रहा है कि पीएम मोदी 2019 के आम चुनाव का शंखनाद केदारनाथ से करना चाहते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)