Sunday , June 23 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / …नहीं तो ढूंढ लेंगे दूसरा पीएम : प्रवीण तोगड़िया

…नहीं तो ढूंढ लेंगे दूसरा पीएम : प्रवीण तोगड़िया

लखनऊ: 

अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद (अहिप) के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने केंद्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि राम मंदिर निर्माण को लेकर कानून बनाया जाए, नहीं तो वह दूसरा प्रधानमंत्री ढूंढ लेंगे. उन्होंने कहा, ‘हमें किसी व्यक्ति से प्रेम नहीं है. जो राम का सम्मान न कर सके वह किसी काम का नहीं है.’ लखनऊ के कृष्णानगर स्थित ईको गार्डेन में अहिप के ‘अयोध्या चलो’ अभियान के तहत आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए तोगड़िया ने कहा कि राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर भाजपा लोकसभा में 2 सीटों से लेकर पूर्ण बहुमत की सरकार तक पहुंची है. भाजपा ने हिमाचल प्रदेश के राष्ट्रीय अधिवेशन में कानून बनाकर अयोध्या में राम मंदिर बनवाने का प्रस्ताव पारित किया था, लेकिन साढ़े 4 वर्ष बीतने के बाद नरेंद्र मोदी अब अयोध्या आना तक भूल गए.

उन्होंने कहा, ‘सरकार तीन तलाक और एससी-एसटी एक्ट पर अध्यादेश ला सकती है तो राम मंदिर के लिए अध्यादेश क्यों नहीं ला सकती. राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण के मुद्दे पर किसी कोर्ट के आदेश पर निर्भर नहीं रहेंगे.’ तोगड़िया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी युवाओं को रोजगार, सस्ती शिक्षा, करमुक्त किसान और सस्ता पेट्रोल देने तक में नाकाम रहे हैं. अहिप का संघर्ष अयोध्या में राम मंदिर बनाने के साथ युवाओं को रोजगार, विद्यार्थियों को सस्ती शिक्षा, सस्ता पेट्रोल और कर्ज मुक्त किसान के लिए भी है.

गुजरात दंगों का जिक्र करते हुए तोगड़िया ने कहा, ‘जब पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी नरेंद्र मोदी को मुख्यमंत्री पद से हटाने में जुटे थे, तब मैंने ही ढाल बनकर उनकी कुर्सी बचाई थी. इसलिए मेरा उनसे व्यक्तिगत विरोध नहीं है.’ उन्होंने कहा, ‘हम चेतावनी देना चाहते हैं कि अगर राम मंदिर के निर्माण कानून बनाकर शुरू नहीं हुआ तो हम प्रधानमंत्री भी बदल सकते हैं. हमें किसी व्यक्ति से प्रेम नहीं है. जो राम का सम्मान न कर सके, वह किसी काम का नहीं है.’

जनसभा में आए हजारों समर्थकों की ओर इशारा करते हुए तोगड़िया ने कहा, ‘हिंदुओं का खोया हुआ गौरव और सम्मान पाने के लिए हम इकट्ठे हुए हैं. यह सपना अशोक सिंघल का है और हिंदुओं का है. राममंदिर का संघर्ष मोदी के सामने शुरू नहीं हुआ है. राजीव गांधी, नरसिंह राव, अटल विहारी वाजपेयी के सामने भी संघर्ष था. मुख्यमंत्री योगी और महंत अवैद्यनाथ का भी ये सपना है.’ अयोध्या कूच पर तोगड़िया ने कहा, ‘हम शांति से यहां से जाएंगे. प्रशासन की वजह से ही आपको खाना नहीं मिला, आप धूप में बैठे हैं. उनका अक्षम्य पाप है, लेकिन हम अनुशासन में अयोध्या जाएंगे. उन्होंने आगे कहा, ‘हम प्रतिज्ञा लेते हैं कि हम राम मंदिर बनाएंगे, धारा 370 हटाएंगे, बांग्लादेशियों को भगाएंगे, सस्ती शिक्षा, सस्ता पेट्रोल, युवाओं के लिए रोजगार लाकर ही मानेंगे.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)