Tuesday , April 23 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / गुरुग्राम गोलीकांड : जज की पत्नी के बाद बेटे की भी मौत, गनर ने बीच बाजार मारी थी गोली

गुरुग्राम गोलीकांड : जज की पत्नी के बाद बेटे की भी मौत, गनर ने बीच बाजार मारी थी गोली

नई दिल्ली: 

गुड़गांव(गुरुग्राम)  में गनर की गोली (Gurugram shooting case) से गंभीर रूप से घायल जज कृष्णकांत (judge Krishan Kant) के बेटे की भी मौत हो गई है. पत्नी की इस घटना में पहले ही मौत हो चुकी है. एक पखवाड़े पहले जज के गनर ने बीच बाजार में ही मां-बेटे को कई गोलियां मारकर फरार हो गया था. बाद में खुद उसने जज को फोन कर इस घटना की जानकारी दी थी. काफी मशक्कत के बाद आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. पत्नी के बाद बेटे की भी मौत से जज कृष्णकांत पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है.

क्या है मामला
एक पखवाडे़ पहले यह घटना हुई थी, जब गुरुग्राम में कार्यरत अतिरिक्त न्यायाधीश कृष्णकांत की पत्नी ऋतु और बेटा ध्रुव आर्केडिया बाजार में खरीदारी के लिए गए थे. उनके साथ न्यायाधीश का सुरक्षा कर्मी महिपाल था. गजराज ने कहा, ‘‘ कुछ स्थानीय लोगों ने पुलिस को आर्केडिया बाजार के बाहर गोली चलने की सूचना दी. जब पुलिस दल पहुंचा तो उन्हें ऋतु और ध्रुव खून से लथपथ मिले.” अधिकारी के मुताबिक, ऋतु को सीने में गोली लगी थी. जबकि ध्रुव को सिर में गोली लगी है. उन्होंने बताया कि घायलों को मेदांता अस्पताल ले जाया गया जहां उनका इलाज चल रहा है गुड़गांव पुलिस के पीआरओ सुभाष बोकन ने पीटीआई भाषा को बताया कि महिपाल से यह जानने के लिए पूछताछ की जा रही है कि उसने गोली क्यों चलाई है.  वहीं इन सब के बीच पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश किया ,कोर्ट ने उसे हत्या का मकसद पता लगाने के लिए 4 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया, वहीं इस वारदात में जज की पत्नी की इलाज़ के दौरान मौत हो गयी जबकि बेटे की हालत बेहद नाजुक थी. लाख कोशिशों के बाद भी बेटा नहीं बच सका. मंगलवार को उसने दम तोड़ दिया.

पुलिस के सामने कबूला था जुर्म
गुरुग्राम में जज कृष्णकांत की पत्नी और बेटे को गोली मारने वाला हरियाणा पुलिस का सिपाही महिपाल अपना जुर्म कुबूल कर चुका है. गुरुग्राम के डीसीपी क्राइम सुमित जज इसकी जानकारी दे चुके हैं. यह जानकारी उन्होंने पुलिस की जांच रिपोर्ट के आधार पर खबरनवीसों को दी. उन्होंने बताया कि आरोपी पिछले डेढ़ साल से जज का PSO यानी निजी सुरक्षा अधिकारी था. महिपाल से SIT की टीम लगातार पूछताछ कर और भी जानकारियां जुटा रही है. डीसीपी ने बताया कि घटना वाले दिन सिपाही महिपाल बाजार  में जज की पत्नी और बेटे को छोड़कर चला गया था. परिवार ने कई बार महिपाल को ढूंढा. महिपाल कुछ देर बाद वापस आया तो उसे डांटा गया. उसी दौरान उसने गुस्से में जज के परिवार पर हमला किया. पत्नी और बेटे को लक्ष्य कर गोली चला दी. पुलिस के मुताबिक महिपाल ने पहले से कोई मर्डर का प्लान नही बनाया था और न ही धर्मांतरण भी किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)