Monday , June 24 2024
ताज़ा खबर
होम / राज्य / गोरखपुर : नगर निगम की जमीन खोजने का जिम्मा जिलाधिकारी ने पार्षदों को सौंपा

गोरखपुर : नगर निगम की जमीन खोजने का जिम्मा जिलाधिकारी ने पार्षदों को सौंपा

गोरखपुर।

प्रभारी नगर आयुक्त जिलाधिकारी कि विजेंद्र पांडियन द्वारा महानगर की विभिन्न वार्डों में नगर निगम की जमीन खोजने का जिम्मा अब स्थानीय पार्षदों को सौंपा गया है क्योंकि निगम के अधिकारी व कर्मचारियों पर अब नही रहा भरोसा। नगर निगम की बेशकीमती जमीन पर लोगों ने अवैध कब्जा कर निर्माण भी करा लिया है। महानगर के 70 वार्ड में नगर निगम का स्थानीय कार्यालय खोलने की तैयारी है।

जिलाधिकारी के निर्देशानुसार क्षेत्रीय पार्षद ने अपने वार्ड की सरकारी भूमि खोजबीन का कार्य शुरू कर दिया है । जिसके क्रम में लेखपाल के साथ पैमाइश कर रिपोर्ट देने की तैयारी हो रही है।

आज 26 नवंबर को सभी पार्षदों के साथ प्रभारी नगर आयुक्त जिलाधिकारी द्वारा बैठक का भी आयोजन किया गया था लेकिन नगर निगम के कर्मचारी की मौत के कारण बैठक को स्थगित कर दिया गया है।

वार्ड नंबर 60 रुस्तमपुर के अंतर्गत 403 एयर लगभग 1 एकड़ भूमि क्षेत्रीय पार्षद प्रतिनिधि धर्मेंद्र सिंह ने लेखपाल के साथ पैमाइश कर के नगर निगम की भूमि चिन्हित किया। आराजी नंबर 388 रुस्तमपुर में 9 डिसमिल आराजी नंबर 385 रुस्तमपुर में 900 स्क्वायर फीट आराजी नंबर 38 चिल्मापुर में 12 एयर आराजी नंबर 46 सिंगापुर में 142 एयर खलियान में ईदगाह की बाउंड्री में खाली जमीन और ईदगाह के बाहर वाली आराजी नंबर नं 49 चिल्मापुर में 121 एयर आराजी नंबर 50 चिल्मापुर में 20 एयर आराजी नंबर 94 तिलमापुर में 24 एयर अंकित है।

पार्षद प्रतिनिधि धर्मेंद्र सिंह ने कहा कि अगर इतनी जमीनी नगर निगम को मिल जाए तो नगर निगम की आमदनी भी होगी और लोगों को रोजगार करने का मौका भी मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)