Friday , May 24 2024
ताज़ा खबर
होम / व्यापार / डॉलर इंडस्ट्रीज ने वित्त वर्ष 2018-19 में आय में 11% की वृद्धि दर्ज की

डॉलर इंडस्ट्रीज ने वित्त वर्ष 2018-19 में आय में 11% की वृद्धि दर्ज की

कोलकाता : डॉलर इंडस्ट्रीज लिमिटेड की वित्त वर्ष 2018-19 में कुल आय 1030.96 करोड़ रुपये की हुई जो गत वर्ष 927.55 करोड़ करोड़ रुपये थी, यानी 11.18% की बढ़ोत्तरी. वित्त वर्ष 2018-19 में प्रॉफिट बिफोर टैक्स 11.03 करोड़ रुपये रहा जो गत वर्ष 95.8 करोड़ रुपये था. वित्त वर्ष 2018-19 में कंसोलिडेटेड प्रॉफिट आफ्टर टैक्स 74.23 करोड़ रुपये रहा जो गत वर्ष 63.86 करोड़ रुपये था.

डॉलर इंडस्ट्रीज लिमिटेड के प्रबंध निदेशक श्री विनोद कुमार गुप्ता ने कहा, “ बाजार का विकास और आर्थिक स्थिति सुस्त थी. बावजूद इसके वित्त वर्ष 18-19 में हमने आय में 11% की वृद्धि दर्ज की. आने वाले दिनों में व्यापार के लिए हम स्थिर माहौल की उम्मीद कर रहे हैं जिससे 2019-20 बेहतर हो सकेगा.”

डॉलर इंडस्ट्रीज लिमिटेड आज श्रेष्ठ तीन होशियरी ब्रांड में एक है और देश में ब्रांडेड होशियरी के क्षेत्र में इसकी बाजार की हिस्सेदारी 15% की है. कंपनी एनएसइ व बीएसइ, दोनों में ही हाल में लिस्टेड हो चुकी है जिससे बाजार में ब्रांड की छवि पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा है. डॉलर के उत्पादों में ब्रांड डॉलर के तहत बिगबॉस, चैंपियन, अल्ट्रा थर्मल्स, मिस्सीहै और प्रीमियम ब्रांड में फोर्स एनएक्सटी और फोर्स गो वियर हैं.

डॉलर इंडस्ट्रीज लि. के संबंध में

डॉलर इंडस्ट्रीज लि. एनएसइ व बीएसइ दोनों में ही लिस्टेड है और आज यह भारत के तीन टॉप होशियरी ब्रांड्स में शामिल है. डॉलर का मुख्यालय कोलकाता में है औ इसकी चार उत्पादन इकाइयां कोलकाता, तिरुपुर(टीएन), दिल्ली और लुधियाना में हैं. कंपनी की 13 शाखाएं तिरुपुर, दिल्ली, जयपुर, पटना, रांची, इंदौर, कटक, वडोढरा, नागपुर, बैंगलोर, आगरा, लुधियाना और रायपुर में हैं. डॉलर की उपस्थिति देश के सभी राज्यों में हैं और यह 95,000 से अधिक एमबीओ में मौजूद है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)