Saturday , July 13 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / रक्षामंत्री ने जताई बंगाल में नरसंहार की आशंका, 23 तारीख तक सुरक्षाबल तैनात रखने की मांग

रक्षामंत्री ने जताई बंगाल में नरसंहार की आशंका, 23 तारीख तक सुरक्षाबल तैनात रखने की मांग

अब तक लोकसभा के छह चरणों के दौरान पश्चिम बंगाल की लोकसभा सीटों के लिए मतदान हुए हैं। आज 19 मई को सातवें और आखिरी चरण के लिए मतदान हो रहे  हैं। हर चरण के दौरान चुनाव यहां हिंसा की घटनाएं सामने आई हैं। इसे लेकर रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने राज्य में नरसंहार होने की आशंका जताई है और आदर्श आचार संहिता के 23 मई को खत्म होने तक चुनाव आयोग से केंद्रीय सुरक्षाबलों की तैनाती करने की मांग की है।

रक्षामंत्री ने कहा, ‘बंगाल की मुख्यमंत्री शुरू से धमकी देती आ रही हैं। इसलिए हमें डर है कि आज मतदान खत्म होने के बाद तृणमूल कांग्रेस का उधर नरसंहार शुरू हो सकता है। इसी कारण हमारी मांग है कि केंद्रीय सुरक्षाबल वहां आदर्श आचार संहिता के खत्म होने तक तैनात रहें।’
रविवार को एक पोलिंग बूथ पर टीएमसी की महिला कार्यकर्ताओं के उलझने के बाद अनुपम हाजरा ने टीएमसी कार्यकर्ताओं पर हमले का आरोप लगाया। वहीं, डायमंड हार्बर लोकसभा क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार निलांजन रॉय की गाड़ी पर भी हमला हुआ। डोंगरिया इलाके में उनकी कार के शीशे तोड़े गए। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

अनुपम हाजरा ने आरोप लगाया कि जादवपुर लोकसभा सीट के पोलिंग बूथ नंबर 150 और 137 पर अपने चेहरा छुपाकर महिला टीएमसी की कार्यकर्ता फर्जी वोट डाल रही हैं। जिनकी पहचान करना मुश्किल है। हाजरा ने कहा कि जब हमने इसपर आपत्ति जताई, तो उन्होंने मतदान केंद्र पर हंगामा खड़ा कर दिया। हाजरा का आरोप है कि चेहरा ढक कर टीएमसी की महिलाएं फर्जी वोटिंग का प्रयास कर रही हैं।

अनुपम हाजरा ने आरोप लगाया है कि टीएमसी के गुंडों ने भाजपा मंडल अध्यक्ष, एक ड्राइवर और एक कार पर हमला किया है। उन्होंने कहा कि हमने अपने 3 पोलिंग एजेंटों को भी बचाया। टीएमटी गुंडे 52 बूथों पर धांधली करने वाले थे। लोग बीजेपी को वोट देने के लिए उत्सुक हैं, लेकिन वे लोगों को वोट नहीं करने दे रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)