Saturday , July 13 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / कलेक्टर बने सहपाठी, छात्रों के साथ बैठकर पढ़ी किताब

कलेक्टर बने सहपाठी, छात्रों के साथ बैठकर पढ़ी किताब

* प्राथमिक शाला टेटकी के छात्रों से कलेक्टर हुए प्रसन्न

* मीनू के अनुसार भोजन नहीं बनने पर कलेक्टर ने दी है चेतावनी

(संजीव कुमार निगम)
आम सभा, शहडोल।

कलेक्टर तरुण भटनागर शुक्रवार को शहडोल जिले के गोहपारू विकासखंड के प्राथमिक शाला टेटकी का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने कक्षा पांचवी की छात्रा रुचि एवं छात्र विपिन से हिंदी की किताब पढ़वाई। छात्र विपिन एवं छात्रा रुचि ने अच्छी तरह से बिना रुके हिंदी की किताब पढ़ कर सुनाई, जिस पर कलेक्टर काफी प्रसन्न हुए। उन्होंने विपिन एवं रुचि की सराहना करते हुए कहा कि हमें विद्यार्थी जीवन में पूरे लगन एवं मनोयोग से अध्ययन करना चाहिए। उन्होंने छात्रों की प्रशंसा करते हुए मौके पर उपस्थित शिक्षक श्री जितेंद्र कुमार मिश्रा एवं शिक्षिका उर्मिला सिंह से कहा कि छात्र-छात्राओं को अच्छी एवं गुणवत्ता युक्त शिक्षा दिलाना शिक्षक का धर्म होता है। शिक्षक का कार्य पाठ्यक्रम को समाप्त करना ही नहीं बल्कि छात्र छात्राओं को शिक्षा दिलाने के साथ-साथ उन्हें उज्जवल भविष्य की ओर ले जाना होता है।
निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री तरुण भटनागर ने प्राथमिक शाला टेटकी मे कक्षा तीसरी, चौथी एवं पांचवी के छात्रों के साथ बैठकर किताब पढ़ी, जिससे छात्र अत्यंत खुश हुए। कलेक्टर ने छात्रों से चर्चा करते हुए मध्यान भोजन की जानकारी ली, जिस पर छात्रों ने बताया कि हमें प्रतिदिन खाने में दाल, चावल, सब्जी तथा गुरुवार को दाल, चावल, कढ़ी मिलती है। इस दौरान कलेक्टर ने विद्यालय परिसर में बने आंगनबाड़ी केंद्र टेटकी का भी निरीक्षण किया तथा आंगनबाड़ी केंद्र में उपस्थित छात्रों से मैत्री भाव से चर्चा की।
कलेक्टर श्री तरुण भटनागर ने प्राथमिक शाला टेटकी एवं आंगनबाड़ी केंद्र टेटकी के लिए बन रहे मध्यान्ह भोजन का भी निरीक्षण किया। मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता में कमी पाए जाने एवं मीनू के अनुसार भोजन नहीं बनने पर कलेक्टर ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की है तथा प्राथमिक शाला टेटकी एवं आंगनबाड़ी केंद्र टेटकी के लिए खाद्यान्न उपलब्ध कराने वाले स्व सहायता समूह के कर्मचारियों को चेतावनी देते हुए कहा है कि मध्यान भोजन की गुणवत्ता में सुधार लाएं एवं मीनू के अनुसार प्रतिदिन भोजन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें अन्यथा आपके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी।