Tuesday , July 23 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / तेलंगाना बनते ही उन हाथों में पहुंच गया, जिन्हें सिर्फ अपनी परवाह: सोनिया

तेलंगाना बनते ही उन हाथों में पहुंच गया, जिन्हें सिर्फ अपनी परवाह: सोनिया

हैदराबाद

कांग्रेस चेयरपर्सन सोनिया गांधी और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को तेलंगाना के मेडचाल में जनसभा की। सोनिया ने कहा कि हर मां जानती है कि उसे अपने नवजात का ख्याल कैसे रखना है। लेकिन तेलंगाना बनते ही ऐसे लोगों के हाथोें में पहुंच गया, जिन्हें सिर्फ अपनी परवाह है। देश के पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनावों में यह सोनिया की पहली रैली थी।

सोनिया गांधी यहां कांग्रेस, तेलुगू देशम पार्टी, तेलंगाना जन समिति और कम्युनिस्ट पार्टी के गठबंधन के लिए प्रचार करने पहुंची थीं। राज्य के गठन के बाद पहली बार पहुंची सोनिया ने खुद को तेलंगाना की मां बताते हुए कहा कि यहां आकर उतनी ही खुशी हो रही है, जितनी एक मां को बहुत दिनों बाद अपने बच्चे को देखकर होती है।

राज्य की स्थिति देखकर कष्ट हो रहा- सोनिया

सोनिया ने कहा- हर मां अपने बेटे को खुशहाल देखना चाहती है। लेकिन आज मुझे राज्य की स्थिति देखकर कष्ट हो रहा है। उन्होंने तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) सरकार को राज्य के गठन के वक्त किए वादे पूरा न करने में नाकाम बताते हुए निशाना साधा।

‘यह चुनाव कठिनाईयों से निकलने का मौका’

कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष ने कहा- आप जानते हैं कि नवजात की देखभाल अगर ठीक से नहीं की जाती तो उसे भविष्य में बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। दुर्भाग्यवश यह उन लोगों के हाथों में आ गया, जिन्हें इसे छोड़कर सिर्फ अपनी परवाह रहती है। उन्होंने कहा कि यह चुनाव लोगों के लिए कठनाईओं से निकलने का मौका है। आप कांग्रेस को भारी संख्या में वोट देकर टीआरएस को सबक सिखाएं।

‘टीआरएस ने भूमि अधिग्रहण को नजरअंदाज किया’

सोनिया ने कहा, “किसानों के लिए कुछ करना तो दूर, यहां की टीआरएस सरकार ने यूपीए सरकार के भूमि अधिग्रहण कानून को भी जानबूझकर नजरअंदाज किया।’ उन्होंने पूछा- तेलंगाना के जन्म के समय जो सपने आपने देखे थे, उनमें से पिछले चार सालों में कितने पूरे हुए?

राज्य के निर्माण के लिए सोनिया साथ खड़ी थीं- राहुल
राहुल गांधी ने कहा- टीआरएस की सत्ता अब जाने वाली है। मुख्यमंत्री चंद्र शेखर का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति ने पिछले पांच साल सिर्फ अपने परिवार के लाभ के लिए काम किया। जब राज्य के लोग तेलंगाना बनने का सपना देख रहे थे तब सोनिया गांधी ही थीं, जो उन लोगों के साथ खड़ी थीं, जो नए राज्य के लिए अपना खून-पसीना बहा रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)