Saturday , April 13 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / एयरटेल और अपोलो अस्पताल ग्रुप ने कोविड-19 चेन को तोड़ने के लिए की साझेदारी

एयरटेल और अपोलो अस्पताल ग्रुप ने कोविड-19 चेन को तोड़ने के लिए की साझेदारी

एयरटेल थैंक्स ऐप के साथ अपोलो 24 /7 एआई आधारित कोविड-19 टेस्ट, भारत के लाखों एयरटेल ग्राहकों को उनकी जोखिम प्रोफ़ाइल कीजानकारीदेताहै

यह टूल एयरटेल ग्राहकों को कोविड-19 इंडिया हीट मैप के माध्यम से क्षेत्रीय जोखिम जानने की सुविधा भी प्रदान करता है

आम सभा, नई दिल्ली : संकट की इस घड़ी में समाज के कल्याण के उद्देश्य से भारती एयरटेल (“एयरटेल”) ने अपने नेटवर्क और डिजिटल तकनीक का उपयोग करने के लिए आज अपोलो 24/7 के साथ एक नए सहयोग की घोषणा की| कोविड-19 महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई को मजबूती प्रदान करने के लिए इस पहल की शुरुआत की गई है| अपोलो 24/7 अपोल ो हॉस्पिटल्स ग्रुप की डिजिटल हेल्थकेयर प्लेटफ़ॉर्म है।

इस साझेदारी का लक्ष्य एयरटेल के पूरे भारत के उपभोक्ताओं तक पहुंच सुनिश्चित करना और अपोलो अस्पताल के अग्रणी डिजिटल प्लेटफार्म ‘अपोलो 24/7’ के माध्यम से इन लोगों में कोविड-19 के प्रति जागरूकता बढ़ाना और इसके चेन को तोड़ना है।

अपोलो 24/7 ने कोविड-19 के प्रति व्यक्तिगत जोखिम की जांच करने के लिए ग्राहकों को एयरटेल थैंक्स ऐप पर एक मुफ़्त डिजिटल स्व-मूल्यांकन टेस्ट की व्यवस्था उपलब्ध करवाई है। अपोलो 24/7 द्वारा विकसित यह टेस्ट प्रणाली एआई आधारित तकनीकों का उपयोग करता है तथा ग्राहक कुछ आसान प्रश्नों का जवाब देकर अपने कोविड-19 जोखिम प्रोफ़ाइल का आकलन कर सकते हैं।

यह डिजिटल टूल ग्राहक के जबाब के आधार पर जोखिम को लेकर उन्हें एक स्कोर देता है और स्वास्थ्य की स्थिति को देखते हुए आवश्यक सुझाव भी देता है| इन सुझावों में अपोलो 24/7 पर निःशुल्क ऑनलाइन सलाह, सेल्फ-केयर टिप्स, सोशल डिस्टेंसिंग तथा डब्ल्यूएचओ और स्वास्थ्य मंत्रालय केदिशा-निर्देश शामिल हैं। इसके साथ ही ऐप कोविड-19 हेल्पलाइन पर डायल करने की सुविधा भी प्रदान करता है।

अपोलो 24/7 हेल्पलाइन पर अपोलो अस्पताल के 100 से अधिक विशेषज्ञ हमेशा उपलब्ध रहते हैं, जो स्कैन करने वाले लोगों के सवालों के जवाब देने के साथ ही उनके सभी संदेहों को दूर करते हैं। इस तरह यह पहल एयरटेल के करोड़ों ग्राहकों की कोविड-19 से संबंधित चिंताओं को दूर करने के साथ ही देश की बड़ी जनसंख्या के स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने में मदद कर रहा है।

अपोलो हॉस्पिटल्स ग्रुप की कार्यकारी वाइस चेयरपर्सन सुश्री शोबना कामिनेनी ने कहा, “लोगों को आधुनिक तकनीक के माध्यम से सशक्त बनाने और उनके स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने के उद्देश्य से हम अपोलो 24/7 के द्वारा एआई आधारित स्वास्थ्य सेवाओं की व्यापक पहुंच सुनिश्चित करना चाहते हैं। कोविड-19 स्कैन एआई टूल के द्वारा पूरे भारत में लोगों को अपने स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिए आवश्यक डेटा और सर्वोत्तम संसाधन मिल पाएगा। एयरटेल के साथ सहयोग से हमें बहुत सारे स्वास्थ्य संबंधी डेटा के संग्रह में मदद मिलेगी। निकट भविष्य में स्वास्थ्य सुरक्षा और संबंधित निर्णयों में एआई की महत्वपूर्ण भूमिका होगी और इस दृष्टिकोण से भी यह समझौता काफी महत्व रखता है। ”

“यह एआई-संचालित बीओटी बहुत ही खास है, क्योंकि यह अपोलो अस्पताल के डॉक्टरों की विशेषज्ञताओं को एक साथ लाने के साथ ही अस्पताल के डेटा का अधिकतम लाभ लेने का मौका प्रदान करती है| इसके अलावा स्वास्थ्य सूचनाओं के महत्वपूर्ण स्रोतों जैसे कि डब्ल्यूएचओ और भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय से भी लाभ उठाने का मौका प्रदान करती है। हमें खुशी है कि हम लाखों लोगों को अपने जोखिम की जांच करने और आवश्यकता पड़ने पर विशेषज्ञों से सलाह लेने में सहयोग करने में सक्षम हैं। हमने जो कुछ डेटा संग्रह किया है उसका स्टडी कर रहे हैं और हम जल्द ही उसके निष्कर्षों पर एक रिपोर्ट जारी करेंगे| यह भारत को स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से आगे रहने और स्वास्थ्य संबंधी इस आपात स्थिति से लड़ने में मदद करेगा, ” अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए सुश्री कामिनेनी ने कहा|

गोपाल विट्टल, एमडी और सीईओ (भारत और दक्षिण एशिया) भारती एयरटेल ने का, “यह एक अभूतपूर्व समय है और हम अपने अपोलो 24/7 जैसे सहयोगियों के साथ मिलकर देश की मदद के लिए डिजिटल तकनीकों से लाभ लेने के लिए काम कर रहे हैं। एयरटेल थैंक्स प्लेटफार्म की पहुंच भारत के लाखों लोगों तक है और हमें उम्मीद है कि यह नया टूल कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए सामाजिक दूर की आवश्यकता के प्रति लोगों में जिम्मेदारी का भाव पैदा करेगा। एयरटेल इस मुश्किल घड़ी में देश की सेवा करने और सरकार के प्रयासों में सहयोग करने के लिए प्रतिबद्ध है। ”

यह टूल गहन एकीकरण के माध्यम से उपयोगकर्ताओं को अपने क्षेत्र के कोविड-19 जोखिम प्रोफ़ाइल को जानने का मौका भी प्रदान करता है| यह भारत के कोविड-19 हीट मैप ग्रेडिंग के माध्यम से विभिन्न स्थानों से एकत्रित प्रतिक्रियाओं के आधार पर उन्हें उच्च से निम्न जोखिम क्षेत्र में बांटता है। यह उपयोगकर्ताओं को देश के भीतर महामारी के प्रसार की स्थिति से अवगत कराता है, और कोविड-19 श्रृंखला को तोड़ने के लिए सामाजिक दूरी बनाए रखने के प्रति सतर्क करता है।

यहाँ जोखिम और आईसीएमआर के परीक्षण मापदंडों के तहत आने वाले मरीजों को कोविड -19 के टेस्ट के लिए अधिकृत केंद्रों से संबंधित सभी निर्देश दिया जाता है। यह स्कैन डॉक्टर के महत्व को कम नहीं करता और इसीलिए बातचीत को विशेषज्ञ की सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। ऐप पर साझा की गई सभी जानकारियों को पूर्ण गोपनीय रखा जाता है। इस त्वरित जोखिम स्कैन सुविधा का लाभ मोबाइल स्मार्टफोन, लैपटॉप और डेस्कटॉप जैसे प्लेटफार्मों पर लिया जा सकता है।

अभी रोगियों को अपने नियमित जांच के लिए क्लीनिक और अस्पताल जाने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है, ऐसे में अपोलो 24/7 अपने डॉक्टरों को रोगियों के लिए टेली- काॅन्सेलिंग की अनुमति देता है ताकि रोगियों को देखभाल के लिए अस्पताल में आने की जरूरत न पड़े। राष्ट्रीय स्तर पर लॉन्च के 2 महीने से भी कम समय में 600 हज़ार से अधिक लोगों ने अपोलो 24/7 पर खुद को पंजीकृत किया और इस सुविधा का लाभ उठाया।

इसके अलावा, एयरटेल ग्राहक अब पूरे देश में 3000 से अधिक अपोलो फार्मेसी स्टोरों पर अपने एयरटेल कनेक्शन को रिचार्ज करवा सकते हैं। इससे एयरटेल के ग्राहकों को ऑफलाइन रिचार्ज का एक सुविधाजनक विकल्प मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)