Friday , June 14 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / मध्य प्रदेश में कोरोना के 15 केस / आज इंदौर में 4 और उज्जैन में एक पॉजिटिव केस मिला, राज्य के 6 जिलों में पहुंचा संक्रमण

मध्य प्रदेश में कोरोना के 15 केस / आज इंदौर में 4 और उज्जैन में एक पॉजिटिव केस मिला, राज्य के 6 जिलों में पहुंचा संक्रमण

इंदाैर

मध्य प्रदेश में जबलपुर, भोपाल, ग्वालिर और शिवपुरी के बाद बुधवार को इंदौर और उज्जैन में भी कोरोनावायरस के संक्रमित मरीज मिले हैं। इंदौर में पॉजिटिव मिले 4 मरीजों में 2 दोस्त हैं, जो पिछले दिनों वैष्णा देवी के दर्शन कर लौटे हैं। इन्हें शहर के बॉम्बे अस्पताल, अरिहंत अस्पताल और एमवाय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उज्जैन में 4 दिन से भर्ती महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके साथ ही राज्य कोरोना के मरीजों की संख्या 15 हो गई है। अब तक जबलपुर में 6, भोपाल, ग्वालियर और शिवपुरी में एक-एक पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जड़िया ने बताया कि कोरोनावायरस की चपेट में आए मरीजों में शामिल 65 वर्षीय महिला उज्जैन जिले की रहने वाली है। 4 अन्य मरीज इंदौर के ही अलग-अलग इलाकों में रहते हैं। इनमें 50 वर्षीय महिला, 48 वर्षीय पुरुष, 68 वर्षीय पुरुष और 65 वर्षीय पुरुष शामिल है। इन पांचों मरीजों में से किसी ने भी पिछले दिनों विदेश यात्रा नहीं की। इनमें शामिल 2 पुरुष मरीज मित्र हैं जो इसी महीने साथ में वैष्णोदेवी की तीर्थ यात्रा पर गए थे और हाल ही में लौटे हैं। कोरोनावायरस रोकने के लिए इंदौर में सोमवार से लॉकडाउन लागू है। कलेक्टर ने कहा- जिलेवासियों को घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है। जिलेभर में कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

इंदौर में अब तक 222 लोग होम क्वारैंटाइन

स्वास्थ्य विभाग ने मंगलवार को 21 सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। इनमें से इंदौर से 13 और आसपास के जिलों के 8 सैंपल हैं। एमजीएम मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब में इनकी जांच की गई। इंदौर में 222 लोग होम क्वारैंटाइन हैं। इनमें से 14 की रिपोर्ट आना बाकी है। वहीं, 162 लोग ठीक हो गए।

भोपाल के हमीदिया अस्पताल में 600 बेड रिजर्व रखे गए

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने आला अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जहां से विदेशी मेहमान लौटे हैं, ऐसे सभी राष्ट्रीय उद्यानों, पर्यटन क्षेत्रों की सघन जांच की जाए। निजी अस्पतालों में उपलब्ध मेडिकल अमले का भी उपयोग करें। दूसरी ओर, प्रशासन ने भोपाल के हमीदिया अस्पताल को खाली कराने के आदेश दिए हैं। इसमें 600 बैड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व हैं। अन्य 200 बेड पर अभी मरीज हैं, जिन्हें दो दिन में कहीं और शिफ्ट कर दिया जाएगा। इसके अलावा इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, सागर और रीवा मेडिकल कॉलेज से जुड़े अस्पतालों को महामारी के इलाज का सेंटर बनाया जाएगा।

एक्शन प्लान: पांच विशेषज्ञ डॉक्टरों की यूनिट, हफ्तेभर ड्यूटी

हमीदिया अस्पताल अधीक्षक डॉ. एके श्रीवास्तव ने बताया कि कोरोना मरीजों का इलाज करने के लिए तीन यूनिट बनाई गई हैं। प्रत्येक यूनिट में पल्मोनोलॉजिस्ट, मेडिसिन, पीडियाट्रिक, ईएनटी और एनीस्थीसिया विशेषज्ञ डॉक्टर ड्यूटी करेंगे। यूनिट में ड्यूटी करने वाले डॉक्टर एक सप्ताह तक मरीजों का इलाज करेंगे। इन्हें एक सप्ताह की ड्यूटी खत्म होने के बाद 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन सेंटर में भेजा जाएगा। इसकी वजह मरीज का इलाज करने वाले डॉक्टर्स, पैरामेडिकल, नर्सिंग स्टॉफ को मरीजों का इलाज करने के दौरान सबसे ज्यादा संक्रमण होने का खतरा होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)