Saturday , May 25 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / तेजप्रताप ने लगाया जनता दरबार, कहा-मौका मिला तो पार्टी की कमान संभालूंगा

तेजप्रताप ने लगाया जनता दरबार, कहा-मौका मिला तो पार्टी की कमान संभालूंगा

राजद सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने आज से पटना में जनता दरबार लगाना शुरू किया है। पहले दिन उन्होंने काफी लोगों की समस्याएं सुनीं और लोगों से बातचीत की। जनता दरबार खत्म होने के बाद उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि पार्टी की कमान संभालने का मौका मिला तो जरूर संभालेंगे।

एक न्यूज चैनल से खास बातचीत में तेजप्रताप ने कहा कि अगर उन्हें आरजेडी की कमान संभालने का मौका मिला तो वो इसे जरूर निभाएंगे। तेज प्रताप ने जोर देकर कहा कि अगर उन्हें पार्टी चलाने का मौका मिलेगा तो वो इसे बेहतर तरीके से चलाएंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी जनता की होती है, जनता जो चाहती है वही होता है। पार्टी पर कब्जा कौन करेगा? एेसा सवाल ही नहीं पैदा होता है, ये सब गलत बात है।

हाल ही में तीन राज्यों में कांग्रेस की जीत पर तेजप्रताप ने राहुल गांधी की तारीफ की और कहा कि महागठबंधन से अगर राहुल गांधी पीएम के उम्मीदवार होंगे तो हमारा समर्थन रहेगा।

उन्होंने कहा कि जनता की बात सुनना जरूरी है कि जनता की क्या समस्याएं हैं। लोग राजनीति में उलझे रहते हैं और जनता की कोई नहीं सुनता। तेजप्रताप ने कहा कि हम पटना में ही नहीं पूरे बिहार की जनता की समस्या सुनना चाहते हैं। अब जल्द ही अपने विधानसभा क्षेत्र महुआ में जनता दरबार लगाएंगे और लोगों की बातें सुनेंगे।

बता दें कि हाल ही में तेज प्रताप ने राजद कार्यालय में आज से जनता दरबार लगाने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि इस दौरान वे आम लोगों के साथ ही कार्यकर्ताओं की समस्या सुनेंगे। जनता दरबार के सवाल पर उन्होंने कहा कि हमारे पास कई महीने फ़ोन आ रहे थे कि लोगो की फरियाद सुनें। लोग अपनी समस्या को लेकर आ रहे हैं लेकिन,  किसी की बात नही सुनी जा रही है।

हाल ही में तेज प्रताप ने रांची के रिम्स जाकर अपने पिता लालू प्रसाद यादव से मुलाकात की थी, जिसके बाद उन्होंने कहा था कि मेरे पिता मेरे भगवान कृष्ण, विष्णु और महादेव हैं।’ उन्होंने कहा कि मुलाकात के दौरान मेरे पिता और राजद प्रमुख ने उनसे पार्टी को आगे ले जाने के लिए कहा है। तेज प्रताप ने यह ऐलान किया था कि कृष्ण के बगैर अर्जुन की लड़ाई अधूरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)