Monday , May 20 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / प्रियंका बोलीं- महरौली से लेकर मजनू का टीला तक, 47 साल से दिल्ली की गलियां देखी हैं

प्रियंका बोलीं- महरौली से लेकर मजनू का टीला तक, 47 साल से दिल्ली की गलियां देखी हैं

दिल्ली में चुनावी लड़ाई को त्रिकोणीय बनाने के लिए कांग्रेस ने अपना ट्रंप कार्ड आखिरकार चल ही दिया. प्रियंका गांधी वाड्रा ने आज दिल्ली में रोड शो के जरिए न सिर्फ अपनी स्टार वैल्यू दिखाई, बल्कि इस रोड शो के जरिए कांग्रेस ने अपनी ताकत भी दिखाई. प्रियंका गांधी वाड्रा की एक झलक पाने के लिए दिल्ली के लोग बेताब हो गए. कोई बालकनी में आया, कोई छतों पर तो हजारों लोग सड़कों पर उतर आए.

प्रियंका ने रोड शो में खुद को दिल्ली की बेटी बताया, और मोदी की ये कहकर खिल्ली उड़ाई कि वो भला दिल्ली के बारे में क्या जानते हैं. मोदी जी दिल्ली 5 साल पहले आए हैं और मैंने 47 साल से दिल्ली की गलियां देखी है. प्रियंका ने कहा कि महरौली से लेकर मजनू का टीला मैं सारी दिल्ली जानती हूं. मैं दिल्ली वालों के दिल की बात बताती हूं.

प्रियंका ने प्रधानमंत्री मोदी को दिल्ली से चुनौती भी दे दी कि अगर उनमें हिम्मत हो तो वो नोटबंदी और जीएसटी के मुद्दे पर चुनाव लड़कर दिखाएं. उत्तरी पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से प्रत्याशी और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के समर्थन में प्रियंका के इस रोड शो का आयोजन किया गया था. प्रियंका का ये रोड शो सीलमपुर के ब्रह्मपुरी पुलिया से शुरू हुआ.

ब्रह्मपुरी पुलिया से प्रियंका का कारवां शुरू हुआ. ओपेन बस में शीला दीक्षित के साथ प्रियंका आईं. कुछ ही दूर बस चली कि प्रियंका ऊपर आ गईं और पालथी मारकर बस पर बैठ गईं. काफिला जब निकला तो रास्ते भर समर्थन में नारे गूंजने लगे. सड़कों पर कार्यकर्ताओं और लोगों का भारी हुजूम उमड़ पड़ा. जो अपने घरों में थे, वो बालकनियों में आ गए और वहीं से प्रियंका पर गुलाब के फूल बरसाने लगे.

प्रियंका मुस्कुराते हुए हाथ जोड़कर लोगों का ये स्वागत कबूल करती रहीं. आखिर में प्रियंका गांधी ने पीएम मोदी पर जमकर हमला बोला. प्रियंका ने कहा, ‘एक दिल्ली की लड़की आपको खुली चुनौती दे रही है. चुनाव के आखिरी दो चरण नोटबंदी पर लड़िए, जीएसटी पर लड़िए, महिलाओं की सुरक्षा पर लड़िए और उन वादों पर लड़िए जो आपने देश के नौजवानों से किए थे और धोखा दिया उन पर लड़िए.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)