Saturday , April 13 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / अब नहीं होगी कोविड-19 दवाई की किल्लत!

अब नहीं होगी कोविड-19 दवाई की किल्लत!

– बीस जुलाई तक साठ हजार दवा की होगी भारत में सप्लाई

नई दिल्ली। कोरोना वायरस की दवाई बनानें वाली कंपनी रेमेड्सविर 60,000 कोविफ़ोर दवा की शीशियों की सप्लाई 13 से 20 जुलाई तक करेगा ये जानकारी हेटेरो हेल्थकेयर लिमिटेड की वेबसाइट से मिली है. कोविफ़ोर रेमेड्सविर का पहला जेनेरिक ब्रांड है, जो कि कोविड-19 रोगियों के इलाज के लिए काम में ली जा रही है. दवा 100 मिलीग्राम इंजेक्शन में उपलब्ध है. देश में कोविड-19 के मामलों की बात की जाए तो सबसे अधिक संख्या महाराष्ट्र में है. इसलिए सबसे ज्यादा इंजेक्शन महाराष्ट्र को दिए जाएंगे. वहां 12,500 और दिल्ली और तेलंगाना में 10,000 और 9,000 को कोविफ़ोर दवा के इंजेक्शन बांटे जाएंगे.

वेबसाइट के अनुसार, तमिलनाडु, गुजरात, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक को क्रमश: 7500, 6000, 2000 और 3000 मिलेंगे जबकि देश के बाकी हिस्सों में 10,000 इंजेक्शन मिलेंगे. कंपनी ने महाराष्ट्र के 166 अस्पतालों और राष्ट्रीय राजधानी में 53 अस्पतालों को दवा पहुंचाई है. रेमडेसिवीर को यूनाइटेड स्टेट्स फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन द्वारा एकमात्र ऐसी दवा है बताया गया है जो कोविड-19 संक्रमण के केसों में सबसे ज्यादा असरदार है.

इससे पहले रेमडेसिवीर की जिन खुराक की सप्लाई दुनिया के अलग-अलग देशों में की जानी थी, अमेरिका ने लगभग सारा स्टॉक खुद ही खरीद लिया है. यह दवा अमेरिका की ही कंपनी गिलीड साइंसेज बनाती है. हालांकि, गिलीड साइंसेज ने पहले ही ऐलान किया था कि वह रेमडेसिवीर दवा की 1.2 लाख खुराक अमेरिका को डोनेट कर रही है. लेकिन अब अमेरिका ने 5 लाख से अधिक ट्रीटमेंट कोर्स की खरीदारी की है जिसका उत्पादन जुलाई में होना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)