Wednesday , April 17 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / शिव विहार से त्रिलोकपुरी की राह कन्फ्यूजन भरी, दो बार बदलनी होगी एक ही मेट्रो

शिव विहार से त्रिलोकपुरी की राह कन्फ्यूजन भरी, दो बार बदलनी होगी एक ही मेट्रो

 नई दिल्ली 
शिव विहार से त्रिलोकपुरी/संजय झील के बीच बने मेट्रो की पिंक लाइन के नए सेक्शन का उद्‌घाटन बुधवार सुबह होने जा रहा है। दोपहर से आम लोग इस सेक्शन पर ट्रैवल कर सकेंगे, लेकिन इस सेक्शन को मेट्रो ने जिस तरह से डिजाइन किया है, वह अपने आप में बेहद अनूठा है या कहें कि थोड़ा अजीब है, जो आम लोगों को थोड़ा कनफ्यूज करने वाला साबित होगा।

रोज यात्रा करने वाले लोग तो कुछ दिन में इस नए सिस्टम के आदी हो जाएंगे, लेकिन इक्का-दुक्का बार यात्रा करने वाले लोगों को दूसरे यात्रियों से पूछते-पूछते आगे जाना पड़ेगा, क्योंकि उनके लिए यह समझना बेहद मुश्किल होगा कि आखिर एक ही सेक्शन पर एक ही लाइन की मेट्रो में ट्रैवल करने के लिए उन्हें दो बार ट्रेन क्यों बदलनी पड़ेगी।

इन बातों का रखना होगा खास ध्यान
इस सेक्शन के ट्रेन ऑपरेशन प्लान को डीएमआरसी ने फिलहाल तीन हिस्सों में बांटा है। इस ट्रैवल प्लान को अच्छी तरह समझने के बाद ही लोग इस सेक्शन पर आराम से यात्रा कर पाएंगे। यह प्लान इस प्रकार से लागू होगा…

  • जो ट्रेन शिव विहार से त्रिलोकपुरी की तरफ जाएगी, उसमें सवार यात्रियों को मौजपुर-बाबरपुर स्टेशन पर ट्रेन खाली करनी पड़ेगी, क्योंकि वह ट्रेन वहीं से लौट जाएगी।
  • ट्रेन यात्रियों को प्लैटफॉर्म नंबर 3 पर छोड़ेगी। यह एक आइलैंड प्लैटफॉर्म है, जिसके ठीक अपोजिट सामने की तरफ प्लैटफॉर्म नंबर 2 है। वहां पर जो ट्रेन खड़ी रहेगी या आएगी, उसमें बैठकर यात्रियों को आगे आईपी एक्सटेंशन तक जाना होगा।
  • चूंकि त्रिलोकपुरी-संजय झील स्टेशन के आगे मयूर विहार पॉकेट-1 की तरफ जाने के लिए जमीन का मसला अभी तक सॉल्व नहीं हुआ है, जिसकी वजह से 1.5 किलोमीटर की दूरी पर लिंक मिसिंग है। इसलिए त्रिलोकपुरी से आगे ट्रेन नहीं जाएगी मेट्रो।
  • त्रिलोकपुरी के पास क्रॉसओवर यानी ट्रेन के लाइन चेंज करने की सुविधा नहीं है, क्योंकि इस स्टेशन को एक टर्मिनल या इंटरलॉकिंग स्टेशन की तरह प्लान या डिजाइन नहीं किया गया था। ऐसे में जो ट्रेन आईपी एक्सटेंशन से त्रिलोकपुरी जाएगी, वही ट्रेन त्रिलोकपुरी से वापस आईपी एक्सटेंशन आएगी और चूंकि अभी इन दोनों स्टेशनों के बीच ट्रेनें सिंगल लाइन पर चलेंगी।
  • ट्रेनों के क्रॉस ओवर की सुविधा आईपी एक्सटेंशन स्टेशन के पास है। ऐसे में जो ट्रेन त्रिलोकपुरी से शिव विहार की तरफ आएगी, वह जब तक आईपी एक्सटेंशन स्टेशन पर नहीं पहुंच जाएगी, तब तक आईपी एक्सटेंशन से ट्रेन को त्रिलोकपुरी की तरफ नहीं भेजा जा सकेगा, क्योंकि ट्रेंनें सिंगल लाइन पर ही चल रहीं होंगी। इसी वजह से शिव विहार की तरफ से आने वाली हर तीसरी ट्रेन को ही आईपी एक्सटेंशन से आगे त्रिलोकपुरी की तरफ भेजा जा सकेगा।
  • इस तरह 17.8 किमी लंबे और 15 स्टेशनों वाले इस नए सेक्शन के एक छोर से दूसरे छोर तक ट्रैवल करने में लोगों को कुल 35 मिनट का ट्रैवल टाइम लगेगा। यह न्यूनतम समय है। अधिकतम समय इससे ज्यादा भी हो सकता है।
  • शिव विहार से मौजपुर के बीच ट्रेनें 5.12 मिनट की फ्रीक्वेंसी पर चलेंगी। इस हिस्से पर अभी 2 ट्रेनें चलाई जाएंगी। मौजपुर से आईपी एक्सटेंशन के बीच भी ट्रेनें 5.12 मिनट की फ्रीक्वेंसी पर चलेंगी। इस हिस्से पर 10 ट्रेनें चलाई जाएंगी।
  • त्रिलोकपुरी से आईपी एक्सटेंशन के बीच ट्रेनें 15.36 मिनट की फ्रीक्वेंसी पर चलेगी। यानी अगर आपको त्रिलोकपुरी जाना है और जैसे ही आप आईपी एक्सटेंशन पर उतरेंगे और देखेंगे कि त्रिलोकपुरी की तरफ जाने वाली ट्रेन आपकी आंखों के सामने ही निकली है, तो फिर अगली ट्रेन के लिए आपको 15 मिनट इंतजार करना पड़ेगा।
  • मौजपुर पर ट्रेन चेंज करने का सिस्टम आगे भी इसी तरह लागू रहेगा, क्योंकि इस स्टेशन को डीएमआरसी ने फेज-4 की प्रस्तावित मजलिस पार्क-मौजपुर लाइन के हिसाब से डिजाइन किया है, जिसके बनने से मेट्रो का एक पूरा रिंग बन जाएगा। वह लाइन इसी स्टेशन से जुड़ेगी और इसीलिए यहां स्टेशन का डिजाइन कुछ अलग तरह का बनाया गया है।
  • त्रिलोकपुरी इलाके में जब जमीन का मुद्दा सुलझ जाएगा और पिंक लाइन का यह सेक्शन आगे मयूर विहार से मजलिस पार्क की तरफ जाने वाले हिस्से से सीधे कनेक्ट हो जाएगा, तब ट्रेनें अप और डाउन, दोनों लाइनों पर एक साथ मेट्रो चलने लगेंगी और फ्रीक्वेंसी बढ़ जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)