Thursday , May 23 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / वोट डालने के बाद बोले योगी आदित्यनाथ- बंगाल की तरह यूपी में चुनाव के दौरान नहीं हुई हिंसा

वोट डालने के बाद बोले योगी आदित्यनाथ- बंगाल की तरह यूपी में चुनाव के दौरान नहीं हुई हिंसा

गोरखपुर
लोकसभा चुनाव के आखिरी दौर में यूपी की 13 सीटों पर चुनाव हो रहा है। यहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर में भी मतदान जारी है। गोरखपुर के बूथ नंबर 246 में योगी आदित्यनाथ ने सबसे पहले सुबह 7 बजे जाकर वोट डाला। उन्होंने मतदाताओं से भी वोट करने की अपील की। साथ ही पश्चिम बंगाल और यूपी की तुलना करते हुए कहा कि यहां चुनाव के दौरान हिंसा का एक भी मामला सामने नहीं आया।

वोट डालने के बाद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘लोकतंत्र में चुनाव त्योहार की तरह हैं। जिस तरह लोगों ने इसमें हिस्सा वह सराहनीय है। यूपी और पश्चिम बंगाल की तुलना करें तो बंगाल की तरह यूपी में पिछले 6 चरण में हिंसा का एक भी मामला सामने नहीं आया।’ मतदान करने से पहले गोरखनाथ मंदिर में योगी ने पूजा-पाठ भी किया और गोशाले में अपनी गायों को खाना खिलाया।

योगी की अपील- आलस्य त्यागकर मतदान करें
योगी आदित्यनाथ ने मतदान की अपील करते हुए अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया, ‘देश एक जिम्मेदार नागरिक के तौर पर आज जनपद गोरखपुर के पुराना गोरखपुर वार्ड में स्थित प्राथमिक कन्या विद्यालय नगर क्षेत्र के बूथ पर मतदान कर अपने अधिकार का प्रयोग और कर्तव्य का निर्वहन किया। आप भी आलस्य त्याग कर नए भारत के निर्माण में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करिए।’

गोरखपुर में कड़ा मुकाबला, दांव पर योगी की प्रतिष्ठा
आखिरी चरण के चुनाव में योगी आदित्यनाथ की असली परीक्षा है। 2014 के चुनाव में इन सभी सीटों पर बीजेपी जीती थी लेकिन इस बार मुकाबला टक्कर का है। गोरखपुर में ही जहां से योगी आदित्यनाथ लगातार 5 बार सांसद रह चुके हैं, मुकाबला कांटे का है। यहां से बीजेपी की तरफ से रवि किशन, गठबंधन से एसपी प्रत्याशी राम भुआल निषाद और कांग्रेस से मधुसूदन त्रिपाठी मैदान में हैं।

उपचुनाव में बीजेपी को मिली थी मात

2017 में मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी को गोरखपुर सीट से इस्तीफा देना पड़ा था जिसके बाद उपचुनाव में बीजेपी को यहां से तगड़ा झटका लगा था और गठबंधन के समर्थन से और एसपी के टिकट से प्रवीण निषाद जीते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)