Monday , April 22 2024
ताज़ा खबर
होम / मध्य प्रदेश / किसानों की कर्ज माफी का जो वचन दिया था, उसे निभाया- डॉ चौधरी

किसानों की कर्ज माफी का जो वचन दिया था, उसे निभाया- डॉ चौधरी

आम सभा ब्यूरो, रायसेन।

किसान इस देश की रीढ़ है। खेती के विकास और किसानों के कल्याण के बिना देश के विकास की कल्पना करना संभव नहीं है। यह बात स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी ने रायसेन में आयोजित मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजना के शुभारंभ कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा कि शपथ ग्रहण करने के बाद मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने सबसे पहले किसानों के कर्ज माफी का आदेश जारी किया। उन्होंने कहा कि हमने जो वचन दिया था, उसे 10 दिन के भीतर पूरा भी किया।

स्कूल शिक्षा मंत्री श्री चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजना के तहत किसानों के ऋण माफ होने से आर्थिक तंगी से जूझ रहे किसानों की स्थिति में सुधार होगा और वे आगे बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि जो किसान कर्ज के बोझ तले दबे हुए थे और उन्हें अपने परिवार को चलाने में, खेती करने में परेशानी हो रही थी, उन किसानों के लिए यह योजना बहुत मददगार साबित होगी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजना के तहत दो लाख रूपए तक का जिले के एक लाख 60 हजार किसानों का ऋण माफ किया जाएगा। जिसमें सहकारी बैंक के 73 हजार 976 किसान तथा राष्ट्रीयकृत बैंकों के 86 हजार किसान शामिल है।

उन्होंने कहा कि जिले के सभी पात्र किसानों को इस योजना का लाभ लेने के लिए परेशान न होना पड़े, इसके लिए किसानों को उनके ग्राम पंचायतों में ही फसल ऋण माफी फार्म उपलब्ध कराए जा रहे हैं। इसके साथ ही लाभान्वित होने वाले किसानों की सूची भी पंचायतों में प्रदर्शित की जाएगी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजना में किसानों को पात्रतानुसार हरे, सफेद और गुलाबी रंग के आवेदन पत्र संबंधित ग्राम पंचायत कार्यालय में प्रस्तुत करने होंगे। ऋणी कृषकों की सूची का प्रकाशन होने के बाद आधार सीडेड हरी सूची के किसानों को हरे रंग के आवेदन पत्र तथा गैर-आधार सीडेड सफेद सूची के किसानों को सफेद रंग के आवेदन पत्र जमा करने होंगे।

उन्होंने कहा कि किसानों को हरी अथवा सफेद सूची में प्रदर्शित जानकारी पर आपत्ति अथवा दावा प्रस्तुत करने का अधिकार दिया गया है। इसके लिये संबंधित किसान को गुलाबी रंग का आवेदन करना होगा। गुलाबी आवेदन पत्र में भाग एक केवल उन किसानों को भरना होगा जिनका नाम बैंक द्वारा प्रदर्शित सूची में दर्ज नहीं है। इसी प्रकार भाग दो केवल उन किसानों को भरना होगा जिनके संबंध में बैंक द्वारा प्रदर्शित जानकारी त्रुटिपूर्ण है।

लाभान्वित होने वाले किसानों की सूची का किया विमोचन

स्कूल शिक्षा मंत्री श्री चौधरी ने जिला सहकारी बैंक के मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजना से लाभान्वित होने वाले ऋणी किसानों की सूची का विमोचन किया। कार्यक्रम में श्री कालूराम, श्री जमना प्रसाद, श्री जय सिंह मीणा सहित अनेक किसानों ने सांकेतिक रूप से फसल ऋण माफी योजना के भरे हुए फार्म स्कूल शिक्षा मंत्री श्री चौधरी को दिए।
स्कूल शिक्षा मंत्री श्री चौधरी ने खरबई तथा देवनगर में आयोजित मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजना के शुभारंभ कार्यक्रम में भी शामिल हुए। कार्यक्रम में कांग्रेस पार्टी के जिला अध्यक्ष श्री मुमताज खान तथा कांग्रेस के श्री शोएब अंजुम ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में कलेक्टर श्रीमती एस प्रिया मिश्रा, एसपी श्रीमती मोनिका शुक्ला तथा सीईओ जिला पंचायत श्री अमनवीर सिंह बैस, कृषि विभाग के उप संचालक श्री एनपी सुमन, जिला सहकारी बैंक के महाप्रबंधक श्री आलोक यादव, उप पंजीयक सहकारिता श्री किशोर सोर्ते, श्री मिर्जा मसर्रत बेग, श्री बृजेश चतुर्वेदी, श्री नारायण सिंह ठाकुर भी उपस्थित थे।

फसल ऋण माफ होने से मिली बड़ी राहत

ग्राम कांठ निवासी श्री जवाहर सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजना के अंतर्गत दो लाख रूपए तक का ऋण माफ होने पर मुझे बड़ी राहत मिली है। जवाहर सिंह ने बताया कि कृषि कार्य के लिए मैंने बैंक से कर्ज लिया था लेकिन मौसम की मार के कारण फसल खराब हो गई। जिस कारण मैं बैंक का कर्ज नहीं चुका पा रहा था। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने किसानों का दो लाख रूपए तक का फसल ऋण माफ कर मेरे जैसे लाखों किसानों को बड़ी राहत दी है।

फसल ऋण माफी योजना से दूर हुई परेशानी

ग्राम मानपुर निवासी श्री संतोष कुमार ने मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजना के तहत 45 हजार रूपए का सोसायटी का ऋण माफ होने पर मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ को धन्यवाद देते हुए बताया कि आर्थिक तंगी के कारण वह यह कर्ज चुका नहीं पा रहा था। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने हम जैसे किसानों का फसल ऋण माफ कर हमारी परेशानी को खत्म कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)