Sunday , February 25 2024
ताज़ा खबर
होम / राज्य / गोरखपुर : कालेज की मान्यता पर संकट आने पर छात्र सडक़ पर उतरे किया जाम

गोरखपुर : कालेज की मान्यता पर संकट आने पर छात्र सडक़ पर उतरे किया जाम

गोरखपुर । सडक़ जाम कर रहे छात्रों को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। बाबा राघवदास पीजी कालेज के नाम दर्ज 11.258 हेक्टेयर भूमि को निरस्त किए जाने के कारण प्राचार्य की तरफ से कृषि विषयों की मान्यता खतरे में पडऩे की आशंका जाहिर करने के बाद छात्र आंदोलने कर रहे थे। इस मामले को लेकर नाराज सैकड़ों छात्र गुरुवार को सडक़ पर उतर आए।

कालेज गेट व उसके बाद पुरवा चौराहे पर गोरखपुर-देवरिया रोड करीब दो घंटे जाम कर प्रदर्शन किया। करीब पांच किलोमीटर लंबा जाम लग गया। पुलिस व पीएसी ने जाम हटाने के लिए बल प्रयोग कर छात्रों को खदेड़ा। इस दौरान पुलिस ने छात्रों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। काफी मशक्कत के बाद जाम खत्म किया गया।

एग्रीकल्चर डिग्री कालेज के नाम दर्ज देवरिया खास नगर बाहर 27 गाटा में 11.258 हेक्टेयर भूमि 1954 में दर्ज था, जिसे एसडीएम सदर रामकेश यादव ने फर्जी करार देते हुए निरस्त कर दिया था। इसके चलते कृषि संकाय की मान्यता खतरे में पड़ गई।

इसको लेकर छात्र कई बार आंदोलित हो चुके हैं। गुरुवार को छात्रसंघ अध्यक्ष जयसिंह यादव, महामंत्री रविशंकर त्रिपाठी, उपाध्यक्ष श्रवण गुप्ता व छात्रनेता अश्वनी राय की अगुवाई में सैकड़ों छात्र कालेज के सामने पहुंचे और गोरखपुर-देवरिया रोड जाम कर जिला प्रशासन के खिलाफ नारबाजी शुरू कर दी। करीब आधा घंटे तक प्रदर्शन किया।

इसके बाद छात्रों का हुजूम पुरवा चौराहे पर पहुंचकर सडक़ जाम कर दिया। दोनों तरफ जाम लग गया। वाहनों की लंबी कतारों के कारण आवागमन ठप हो गया। इसकी जानकारी होने पर एडीएम प्रशासन राकेश कुमार पटेल, एसडीएम सदर रामकेश यादव, एएसडीएम डा. संजीव कुमार यादव, सीओ वरुण मिश्र मय पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचे व छात्रनेताओं को समझाने-बुझाने लगे। करीब आधा घंटे तक समझाने की कोशिश की लेकिन छात्र भूमि को महाविद्यालय के नाम वापस करने की मांग करते रहे।

बात जब नहीं बनी तो एडीएम के निर्देश पर पुलिस ने बल प्रयोग शुरू कर दिया। छात्रों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। इसके चलते सडक़ पर अफरातफरी मच गई। पुलिस की लाठी से बचने के लिए आम लोग भी भागने लगे। कई लोगों ने अपनी मोटरसाइकिलें छोड़ दीं।

बाद में माहौल शांत होने के बाद अपनी मोटरसाइकिल लेकर गए। वहीं प्रशासन ने छात्रसंघ अध्यक्ष समेत अन्य पदाधिकारियों को मौके पर रोक लिया और जिलाधिकारी अमित किशोर से वार्ता के लिए बुलाया। इस संबंध में एडीएम प्रशासन ने बताया कि जाम खत्म करने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया। डीएम से वार्ता के लिए छात्रनेताओं के प्रतिनिधिमंडल को बुलाया गया है।

एंबुलेंस के लिए छोड़ा रास्ता

पुरवा चौराहे पर सडक़ जाम के कारण वाहनों का आवागमन ठप हो गया। इस दौरान करीब आधा दर्जन एंबुलेंस जाम में फंस गई। एंबुलेंस में गंभीर मरीजों को देवरिया से गोरखपुर ले जाया जा रहा था। जिसके बाद छात्रों ने उन्हें रास्ता दिया और पुलिस ने वाहनों को किनारे कराकर उन्हें जाने दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)