Monday , June 17 2024
ताज़ा खबर
होम / मध्य प्रदेश / मध्यप्रदेश में अन्य पिछड़ा वर्गों का आरक्षण 14 से बढ़ाकर 27 प्रतिशत किया जायेगा

मध्यप्रदेश में अन्य पिछड़ा वर्गों का आरक्षण 14 से बढ़ाकर 27 प्रतिशत किया जायेगा

भोपाल : मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा है कि राज्य सरकार अन्य पिछड़ा वर्गों के आरक्षण को 14 प्रतिशत से बढ़ाकर 27 प्रतिशत करेगी। उन्होंने कहा कि सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से दुर्बल नागरिकों के लिये राज्य सरकार सरकारी नौकरियों में 10 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान भी लागू करेगी। उन्होंने कहा कि समाज में सभी वर्गों को आगे बढ़ने के अवसर मिले इसके लिए सरकार प्रतिबद्ध है। श्री नाथ सागर में जय किसान फसल ऋण माफी योजना में किसानों को प्रमाण पत्र वितरित करने के बाद विशाल जन समुदाय को सम्बोधित कर रहे थे।

युवाओं को रोजगार की युवा स्वाभिमान योजना लागू

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि किसानों की खुशहाली और नौजवानों की तरक्की के लिए सरकार लगातार 70 दिनों से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि पद सम्हालते ही उन्होंने किसानों की कर्ज माफी की। साथ ही युवाओं को रोजगार देने के लिए युवा स्वाभिमान जैसी योजनाएँ लागू की।

कर्ज माफी से 50 लाख किसान लाभान्वित होंगे

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम कृषि क्षेत्र पर आधारित 70 प्रतिशत लोगों को सशक्त बनाने के लिए काम कर रहे हैं। हमारा लक्ष्य है कि हम कृषि क्षेत्र में ऐसी क्रांति लाए कि पूरे प्रदेश के विकास का नक्शा बदल जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि अर्थ-व्यवस्था की रीढ़ हमारे किसान है और उनको मेहनत से किए गए उत्पादन का वाजिब दाम मिले, यह हमारा प्रयास है। उन्होंने कहा कि हमारे धरती पुत्र किसान की क्रय शक्ति में वृद्धि होने से प्रदेश का तेजी से विकास होगा। किसान ऋण माफी योजना कर्ज के बोझ से दबे किसानों को मुक्त करने का ऐतिहासिक काम राज्य सरकार कर रही है। सरकार 25 लाख किसानों का ऋण माफ करने जा रही है। इसके बाद हम 25 लाख किसानों को इस योजना का लाभ देंगे।

सरकार निवेश का नया वातावरण बना रही

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार प्रदेश में निवेश का एक नया विश्वास का वातावरण बना रहीं है। हमारा नौजवान विकसित मध्यप्रदेश का भविष्य है। निवेश के जरिए हम हर हाथ को काम देने की ओर आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य है पिछले सालों में मध्यप्रदेश में लगने वाले उद्योगों से अधिक उद्योग या तो बंद हो गए या बंद होने की कगार पर है। इन्हें पुनर्जीवित करने के‍लिए सरकार पूरी ताकत के साथ काम कर रही है।

सागर के विकास के लिये वचनबद्ध हैं

मुख्यमंत्री ने कहा कि सागर के विकास के लिए हम वचनबद्ध है। यहाँ फ्लाइओवर, सड़कों के निर्माण और आईटी पार्क के विकास के साथ सागर का नया इतिहास बनाएंगे।

जय किसान ऋण माफी योजना समारोह को जिले के प्रभारी एवं वाणिज्यिक कर मंत्री बृजेन्द्र सिंह राठौर, राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत, कुटीर एवं ग्रामोद्योग, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री हर्ष यादव ने भी संबोधित किया।

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर 12 किसान को प्रतीक स्वरूप ऋण माफी के प्रमाण-पत्र दिए। उन्होंने लाड़ली लक्ष्मी और मुख्यमंत्री स्व-रोजगार योजना के हितग्राहियों को भी प्रमाण-पत्र और स्वीकृति पत्र दिए। अमृत योजना में सूत्र सेवा की 18 बस को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। मुख्यमंत्री ने करीब 10 लाख लागत की 33 गौ-शाला की आधार-शिला रखी और 763 करोड़ से अधिक के विकास और निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण किया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)