Saturday , May 18 2024
ताज़ा खबर
होम / मध्य प्रदेश / ग्वालियर व्यापार मेले को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए प्रयास किये जाएंगे – सिंधिया

ग्वालियर व्यापार मेले को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए प्रयास किये जाएंगे – सिंधिया


ग्वालियर व्यापार मेला का भव्य शुभारंभ

ग्वालियर (मुकेश तिवारी)। श्रीमंत माधवराव सिंधिया का आज म. प्र. एक्सपोर्ट फेसिलिटेशन सेन्टर में ऐतिहासिक ग्वालियर व्यापार मेले का भव्य शुभारंभ पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। सिंधिया ने कहा कि ग्वालियर व्यापार मेले को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिये प्रयास किया जायेगा।

मेले के शुभारंभ के मोके पर प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती इमरती देवी, महापौर विवेक नारायण शेजवलकर, कार्यक्रम के अध्यक्ष विधायक मुन्नालाल गोयल, विधायक प्रवीण पाठक, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मनीषा भुजवल सिंह यादव विशेष अतिथि के रूप में मौजूद थे। कार्यक्रम में मंच पर संत कृपाल सिंह, मेला प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं संभागीय आयुक्त बी एम शर्मा, जिला कांग्रेस अध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा, प्रभारी कलेक्टर दिनेश श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन, नगर निगम आयुक्त विनोद शर्मा, सीईओ जिला पंचायत शिवम वर्मा, मेला प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष वीरेन्द्र गंगवाल मंचासीन थे।

मेले के फैसिलिटेशन सेंटर में शुभारंभ के मौके पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं सांसद सिंधिया ने कहा कि ग्वालियर के 115 साल पुराने ऐतिहासिक मेले को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिये हम सबको विशेष प्रयास करने होंगे। अगले वर्ष मेले को भव्य रूप से आयोजित करने के लिये अभी से सभी को मिलकर एक रणनीति तैयार करनी चाहिए। सिंधिया ने कहा कि 115 वर्ष पुराने इस मेले को आर्थिक रूप से भी सक्षम करने की दिशा में प्रयास होना चाहिए।

सिंधिया ने कहा कि ग्वालियर में विकास के लिये हम सबको एकजुट होकर प्रयास करना चाहिए। दलगत राजनीति से ऊपर उठकर शहर विकास हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता में रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की ओर से भी ग्वालियर के विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जायेगी। सिंधिया ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा इस वर्ष ग्वालियर व्यापार मेले में वाहनों के रोड़ टैक्स पर 50 प्रतिशत की छूट प्रदान की गई है। इससे ग्वालियर मेले में आकर्षण बढ़ेगा।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं सांसद सिंधिया ने यह भी कहा कि ग्वालियर किसी पार्टी का नहीं बल्कि ग्वालियरवासियों का है और ग्वालियर के विकास में सभी का योगदान आवश्यक है।

कार्यक्रम में प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि सिंधिया परिवार ने ग्वालियर मेले की स्थापना 1905 में पशु मेले के रूप में की थी। ग्वालियर में व्यापार मेले के रूप में स्थापित इस मेले की पहचान प्रदेश में ही नहीं, देश भर में है। इस मेले को और ऊँचाई तक पहुँचाने के लिये विशेष प्रयास किए जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि ग्वालियर के विकास के लिये सिंधिया राज परिवार के योगदान को हमेशा याद किया जाता है।

खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि ग्वालियर में सिंधिया के नेतृत्व में चंबल नदी का पानी लाने के लिये भी कार्य किया जायेगा। इसके साथ ही शासन की सभी योजनाओं का लाभ ग्वालियर अंचल को दिलाया जायेगा।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विधायक मुन्नालाल गोयल ने कहा कि ग्वालियर व्यापार मेले में सिंधिया के प्रयास से 50 प्रतिशत टैक्स में छूट प्रदान की गई है। इसके लिये सभी व्यापारियों की ओर से उनके प्रति आभार ज्ञापित किया गया है। ग्वालियर व्यापार मेले को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिये भी हम सब मिलकर कार्य करेंगे और अगले वर्ष मेला और भव्य रूप से आयोजित हो, इसके लिये अभी से रणनीति तैयार करेंगे।

कार्यक्रम को महापौर विवेक नारायण शेजवलकर ने भी संबोधित करते हुये कहा कि ग्वालियर मेले का इंतजार ग्वालियरवासी त्यौहार की तरह करते हैं। हम अपने रिश्तेदारों और पहचान वालों को भी ग्वालियर व्यापार मेले के अवसर पर ग्वालियर आने के लिये आमंत्रित करते थे। ग्वालियर के इस ऐतिहासिक मेले को और भव्यता प्रदान करने के सार्थक प्रयास आवश्यक हैं। उन्होंने कहा कि सिंधिया परिवार द्वारा स्थापित इस मेले की गरिमा को बढ़ाने की दिशा में प्रदेश और केन्द्र सरकार का सहयोग भी अपेक्षित है।

कार्यक्रम के प्रारंभ में मेला प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं संभागीय आयुक्त बी एम शर्मा ने स्वागत भाषण दिया। उन्होंने कहा कि ग्वालियर व्यापार मेला प्राधिकरण द्वारा मेले में पधारने वाले सभी व्यापारियों और सैलानियों की सुविधा के लिये कार्य किए गए हैं। मेले में बेहतर जनसुविधाएं उपलब्ध कराने के साथ ही प्रकाश व्यवस्था पर भी कार्य किया गया है। इसके साथ ही सम्पूर्ण मेले की रंगाई-पुताई कर मेले को आकर्षक रूप भी प्रदान किया गया है। बी एम शर्मा ने कहा कि इस वर्ष मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रमों को भी भव्यता प्रदान की गई है। ग्वालियर मेला अपने पूर्ण वैभव में लौट सके, इसके लिये प्राधिकरण की ओर से भी विशेष प्रयास किए जा रहे हैं। कार्यक्रम के शुभारंभ अवसर पर कलाकारों द्वारा स्वागत गीत एवं मध्यप्रदेश गान भी प्रस्तुत किया गया।

सांस्कृतिक कैलेण्डर एवं मेला गाईड का विमोचन ग्वालियर व्यापार मेला प्राधिकरण द्वारा इस वर्ष मेले के सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिये तैयार किए गए कैलेण्डर का सिंधिया द्वारा विमोचन किया गया। इस मौके पर प्राधिकरण द्वारा तैयार की गई मेला गाईड का भी सिंधिया द्वारा विमोचन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)