Tuesday , July 23 2024
ताज़ा खबर
होम / राज्य / हरिद्वार / साठ दिन से सेवा में जुटे युवा भगीरथों को जिला अधिकारी ने किया सम्मानित

हरिद्वार / साठ दिन से सेवा में जुटे युवा भगीरथों को जिला अधिकारी ने किया सम्मानित

शहरी विकास मंत्री भी की ने बीइंग भगीरथ जनता रसोई की सराहना

आम सभा, हरिद्वार। लाॅकडाउन में सेवा कार्यो में अहम भूमिका निभाने वाली बीइंग भगीरथ फाउण्डेशन के स्वयंसेवियों को जिला अधिकारी ने सम्मानित किया। दो महीने लगातार सेवा कार्य चलाने पर संस्था की ओर अभियान को अल्प विराम दिया गया है। लाॅकडाउन की मुश्किल घड़ी में पिछले साठ दिनों से कोरोना वारियर के रूप में संयोजक शिखर पालीवाल व उनकी विभिन्न क्षेत्रों में लगायी टीमें जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री के साथ भोजन की व्यवस्था को भी निरंतर अंजाम दे रही थी। जिला अधिकारी सी.रविशंकर ने बीइंग भगीरथ के संयोजक शिखर पालीवाल व उनकी टीम की सराहना करते हुए कहा कि लाॅकडाउन में बीइंग भगीरथ युवा टीम की जितनी भी प्रशंसा की जाए उतना कम है।

इनके द्वारा जरूरतमंदों को निस्वार्थ सेवाभाव से भोजन व खाद्य सामग्री वितरित किया जाना अन्य लोगों के लिए भी प्रेरणा का स्रोत बना। जिला अधिकारी ने कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते गरीब, असहाय, निर्धन, जरूरतमंद, प्रवासी श्रमिकों को सामाजिक संस्थाओं द्वारा भोजन व राशन देना सबसे बेहतर कार्यो में आता है। उन्होंने कहा कि वे सबसे ज्यादा अंक बीइंग भगीरथ के वालंटियरर्स को देना चाहेगें। बीइंग भगीरथ के वालंटियरर्स ने दिन रात जरूरतमंदों की मदद कर सेवा कार्यो व जनजागरूकता की मिसाल कायम की है। शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने भी अपने संदेश में बीइंग भगीरथ की सेवा कार्यो की जमकर सराहना की।

उन्होंने कहा कि कोरोना संकट काल में जब मुख्यमंत्री द्वारा सेवा कार्य करने वाली संस्थाओं की सूची मांगी तो हरिद्वार से बीइंग भगीरथ फाउण्डेशन का नाम सूची में सबसे पहले रखा गया। मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि सेवाभाव से ही कोरोना संकट को दूर किया जा सकता है। बीइंग भगीरथ के संयोजक शिखर पालीवाल के नेतृत्व में उनकी टीम रात दिन जरूरतमंदों व प्रवासी श्रमिकी की सेवा में जुटी रही। रामकृष्ण मिशन सेवाश्रम के स्वामी दयाधिपानन्द महाराज ने कहा कि मिशन की ओर से चलाए गए सेवा कार्यो में भी बीइंग भगीरथ का उल्लेखनीय सहयोग रहा। बीइंग भगीरथ के स्वयंसेवियों की मदद से शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में जरूरतमंदों को राशन व भोजन वितरण किया गया।

अपर मेला अधिकारी हरवीर सिंह ने कहा कि शासन प्रशासन व सरकार की विभिन्न टीमों के कर्मचारियों व अधिकारियों मे समन्वय में बीइंग भगीरथ टीम ने रात दिन अथक मेहनत के साथ जरूरतमंदों की आवश्यकताओं को जनसहयोग से पूरा किया। साथ ही वाल पेंटिंग व रोड़ आर्ट के माध्यम से कोरोना वायरस के खतरे व उससे बचाव के उपायों के प्रति जागरूक करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। संयोजक शिखर पालीवाल ने कहा कि कोरोना वायरस के रूप में जो संकट देश व समाज के सामने आया उसे देखते हुए हरिद्वार को अलग अलग क्षेत्र में विभाजित कर बीइंग भगीरथ की टीमें तैनात की गयी। सभी टीम के सदस्यों ने जिम्मेदारी से अपनी भूमिका निभाते हुए प्रत्येक गरीब व असहाय तक भोजन व राशन के रूप में मदद पहुंचायी। इसके अलावा विभिन्न राज्यों से आए प्रवासी श्रमिकों को भोजन, पानी आदि उपलब्ध कराने में भी टीम के सदस्यों का सक्रिय योगदान रहा।

जिसके लिए टीम के सभी सदस्य बधाई के पात्र हैं। सेवा के इस अभियान में कई दूसरी संस्थाओं ने भी बीइंग भगीरथ टीम का सहयोग किया। जिसमें सार्थक पाठशाला, जमालपुर खुर्द समिति, श्यामपुर कांगड़ी यूथ क्लब, अजय बिष्ट, मनोज निषाद, विशाल खैरवाल, आशीष जैन, शुभानु भारद्वाज, राजन राणा, रोहित चौहान, संगीत मदान आदि ने बीइंग भगीरथ द्वारा तैयार किए गए भोजन को विभिन्न क्षेत्रों में जरूरतमंदों तक पहुंचाने में निस्वार्थ रूप से सहयोग किया।

जिसके लिए उन्हें जिला अधिकारी द्वारा सम्मानित किया गया। साथ ही बीइंग भगीरथ के साठ दिन तक चले अभियान में करीब दो लाख लोगों तक भोजन व राशन पहुंचाने में लगे स्वयंसेवियों मोहित विश्नोई, हितेश चौहान, अंकित शर्मा, मोहित शर्मा, विपिन सैनी, ब्रजेश चौहान, शिवम् चौहान, आशु चौहान, कुणाल धवन, शुभम विश्नोई, संदीप खन्ना, वेणु त्यागी, संतोष साहू, ओमशरण गुप्ता, मधु भाटिया, नीरज शर्मा, रूचिता उपाध्याय, जनक सहगल,भूपेश पांडेय, विपुल गोयल, विनोद कुमार, विनीत चैहान, राहुल गुप्ता, अनिकेत, तन्मय, सुशांत समेत सभी सदस्यों को जिला अधिकारी, अपर मेला अधिकारी, गंगा सभा अध्यक्ष प्रदीप झा, मुख्य उद्यान अधिकारी नरेंद्र यादव व आरएसएस सेवा प्रमुख वीर प्रताप चौहान द्वारा सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)