Monday , June 17 2024
ताज़ा खबर
होम / मध्य प्रदेश / भेल भोपाल : मजदूर विरोधी आठवां वेज रिवीजन के खिलाफ कर्मचारियों का आक्रोश

भेल भोपाल : मजदूर विरोधी आठवां वेज रिवीजन के खिलाफ कर्मचारियों का आक्रोश

सतेंद्र सिंह, भोपाल। भेल के इतिहास में  कर्मचारियों का सबसे खराब वेज रिवीजन के काला समझौते के खिलाफ बीएमएस के नेतृत्व में हजारों कर्मचारियों ने अपने हक़  मांगने मानव संसाधन विभाग का घेराव किया।
बीएमएस के उपाध्यक्ष सतेंद्र कुमार ने कहा कि यूनियन द्वारा भेल कार्यपालक निदेशक के माध्यम चेयरमैन को ज्ञापित 10.01.2019 को भेल कर्मचारियों का 8वां वेज रिविज़न कर्मचारी हित मे संशोधित करके हक देने को ज्ञापन सौप है। ज्ञापन में कहा है कि अनुबंध पर INTUC, HMS एवं लोकल यूनियन ऐबू ने हस्ताक्षर किए जिबकी बीएमएस और एटक कर्मचारी हित को लेकर हस्ताक्षर न करके विरोध किया।  जिसको आपने बहुमत के आधार पर लागू किया। हमारी यूनियन ने 10.01.2019 के बैठक में कुछ महत्वपूर्ण तथ्य रखे थे जिसको लेकर आज सारे यूनिटो के कर्मचारियों में भी काफी रोष व्याप्त है। इन महत्वपूर्ण बिन्दु को सैलरी ग्रेड सब-कमिटी में हल किया जाना अति आवश्यक है :-
1.      अनुकंपा नियुक्ति आरंभ किया जाए।
2.      सभी कर्मचारियों के लिए 1 करोड़ रु का टर्म प्लान आरंभ किया जाए।
3.      A1/B1 का न्यूनतम बेसिक रु 29000/- एवं  A3 के लिए रु 32500/- तय किया जाए।
4. नये बेसिक में दो अतिरिक्त इंक्रीमेंट दिया जाए ताकि कर्मचारियों को सम्मानजनक वेतन मिल सके।
5.      01.01.2009 के बाद जॉइन किए कर्मचारियों को ढाई इंक्रीमेंट नहीं मिला जिस कारण लगातार बैच (यानि 2008 के बाद) के बेसिक में लगभग 4 से 5 हजार रु का नुकसान होना होने लगेगा। कर्मचारियों के भविष्य को देखते हुए इस अंतर को कम किया जाए।
6.      अनुबंध के अनुसार हर 5 साल में रु 30 हजार का मिलने वाले लैपटाप की अनिवार्यता को हटाकर अधिकारियों को मिलने वाले furniture & furnishings के तरह मिलने वाले  33 आइटम्स को भी इसमे शामिल किया जाए।
7.      अनुबंध के अनुसार अगर कर्मचारी S4 एवं E1 बन जाता है तो उसको मिलने वाला संशोधित सर्विस वेटेज बंद कर दिया जाएगा को अनुबंध से हटाया जाए।
8.      भेल भोपाल में 1980 से 1998 के बीच जॉइन के कर्मचारियों को ढाई साल डीआर करने के कारण भेल के अन्य यूनिट में एक ही समय जॉइन कर्मचारियों में लगभग 15 हजार का अंतर होना तय है। सभी यूनिट में एक ही समय जॉइन कर्मचारियों के समान भेल भोपाल के कर्मचारियों को उनका वास्तविक वेतन  आरंभ करे।
9.      केंद्रीय सीसीएल को लागू किया जाए ।
10.     A5 और A6 के पदोन्नति की अवधि को एक वर्ष कम 2019 से प्रभावी किया गया इसे 2017 से लागू किया जाए । 2007 के वेज रिविज़न में 2006 बैच के कर्मचारियों को वर्ष 2010 के प्रमोशन में 1 वर्ष का नुकशान हो चुका था और अभी फिर से 1 वर्ष का नुकशान होना तय है।
11.     Revised Service Weightage जनवरी 2019 से लागू किया गया इसे जनवरी -2017 से लागू किया जाए एवं पीएफ, लीव एनकैशमेंट और ग्रेच्युटी की गणना के लिए Service Weightage का समावेश किया जाए जैसा कि पिछले 20 वर्षों से किया जाता रहा है जो  अब बंद करने की बात की गई है।
12.     आश्रितों के मेडिकल ट्रीटमेंट पात्रता के लिए रु1500/- तय है इस सीलिंग राशि को हटाया जाए अथवा बढ़ाकर रु25000/-  किया जाए।
13.     सभी ग्रेडो के प्रमोशन की अवधि एक वर्ष कम किया जाये।
14.     Temporary Employee Artisans (TEA) को Artisan Trainees (A0) के रूप बदला जाए और Artisan Trainees को ज्वाईनीँग तिथि से ही बेसिक एवं डीए का भुगतान किया जाए।
यूनियन एवं समस्त कर्मचारियों की मांग है की उपरोक्त सभी बिन्दुओ को आगामी सैलरी ग्रेड सब-कमिटी के बैठक में हल किया जाए। नही तो कर्मचारियों में बढ़ते आक्रोश के कारण कारखाने में बिगड़ते बातावरण का जिम्मेदारी प्रबंधन की होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)