Thursday , June 20 2024
ताज़ा खबर
होम / मध्य प्रदेश / बैरसिया/वन परिक्षेत्र में बैरसिया नही हुआ तेंदू पत्ता शाख कतरन का कार्य

बैरसिया/वन परिक्षेत्र में बैरसिया नही हुआ तेंदू पत्ता शाख कतरन का कार्य

फर्जी प्रमाणक तैयार कर 8 लाख रुपये की राशि हड़पने की तैयारी

कमीशन के चक्कर मे सिर फुटब्बल की नोवत

(आम सभा, रिपोर्टर बैरसिया)

वन परिक्षेत्र बैरसिया में तेंदू पत्ता शाख कतरन के नाम पर फर्जी प्रमाणक बना कर लगभग 8 लाख रुपये हड़पने की तैयारी

वन परिक्षेत्र बैरसिया में प्रति बर्ष तेंदू पत्ता उत्पादन में बढ़ोत्तरी एवं गुणवत्ता लाने के लिए तेंदू पत्ता पेड़ो की साफ सफाई व कटाई छटाई का कार्य कराया जाता है वन परिक्षेत्र बैरसिया अंतर्गत गुनगा दामखेड़ा भोजा पूरा मंगलगढ़ सुराना एवं बैरसिया 6 लघु वनोपज समतिया है इन समितियों को बर्ष 2020 के लिए माह मार्च में शासन द्वारा तेंदू पत्ता शाख कतरन कार्य मे तेंदू पत्ता पेड़ो की साफ सफाई व कटाई छटाई कार्य के लिए लगभग 8 लाख रुपये की राशि प्राप्त हुई परन्तु वन परिक्षेत्र बैरसिया में तेंदू पत्ता पेड़ो की शाखा कतरन का कार्य कही भी नही हुआ

वन विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा तेंदू पत्ता शाख कतरन के नाम से शासन द्वारा प्राप्त राशि 8 लाख फर्जी प्रमाणक तैयार कर हड़पने की तैयारी चल रही है

उल्लखनीय है कि तेंदू पत्ता शाख कतरन का कार्य वनपरिक्षेत्र अधिकारी (नोडल अधिकारी) के मार्ग दर्शन में डिप्टी रेंजर एवं लघु वनोपज समिति के प्रवन्धक (पोषक अधिकारी) वन रक्षक से शाख कतरन का कार्य कराते है वन रक्षक श्रमिको के द्वारा तेंदू पत्ता पेड़ो की साफ सफाई एवं कटाई छटाई का कार्य करते है और कार्य के पश्यत पोषक अधिकारी उक्त कार्य का मूल्यांकन करने के बाद वन परिक्षेत्र अधिकारी (नोडल अधिकारी ) को कार्य होने की सूचना देते है इसके बाद प्रमाणक तैयार कर श्रमिको को भुगतान कर दिया जाता है वन परिक्षेत्र बैरसिया में शाख कतरन के नाम पर बन्दर बांट की तैयारी चल रही है जानकारी प्राप्त हुई है कि कुछ पोषक अधिकारी फर्जी प्रमाणक पर हस्ताक्षर नही कर रहे थे परंतु आला अधिकारियों के दबाव में हस्ताक्षर करबा लिए है जानकारी प्राप्त हुई है कि कमीशन के चक्कर मे लड़ाई झगड़े की नोवत आगई है

फड़ मुंसी एवं समिति प्रबन्धको की मिली भगत से तेंदू पत्ता खरीदी में भी हो रहा है जमकर भृष्ट्राचार

तेंदू पत्ता शाख कतरन नही होने से तेंदू पत्ता भी गुण वत्ता पूर्ण नही आ रहा है
नियमानुसार तेंदू पत्ता की एक गड्डी में पचास पत्ते होना चाहिए सूत्रों द्वारा जानकारी मिली है कि फाड़ मुंसियो के द्वारा 25 से 30 पत्तो की गड्डियां ली जा रही है और 70,80 गड्डियां बोरो में भरी जा रही है और बोरो में गड्डियों की संख्या 100 लिखी जा रही है फड़ मुंसी गोदाम प्रभारी को लालच देकर तेंदू पत्तो को गोदाम में रखवा देते है

जानकारी प्राप्त हुई है कि वन परिक्षेत्र बैरसिया का तेंदू पत्ता लगभग 3 बर्षो से भोपाल में गौदामो में सड़ रहा है क्योंकि 25 ,30 पत्तो की गड्डियां है और बोरो में भी कम गड्डियां भरी हुई है और गुणवत्ता पूर्ण नही होने से कोई खरीदने को तैयार नही है शासन लाखो रुपया किराया के रूप में भुगतान कर चुका है

उक्त सम्बन्ध में बात करने के लिए एच एस मिश्रा डी एफ ओ भोपाल को मो.न.9424790551पर कई वार फोन लगाया परन्तु उन्होंने फोन नही उठाया

भोपाल जिला ग्रामीण कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अवनीश भार्गव ने शासन से मांग की है कि तेंदू पत्ता शाख कतरन के नाम पर हो रहे 8 लाख रुपये के भृष्ट्राचार की उच्चस्तरीय जांच कराकर दोषी अधिकारियों पर कठोर कार्रवाही की जाए अगर शासन द्वारा उच्चस्तरीय जांच कर दोषी अधिकारियों पर कार्रवाही नही की गई तो कांग्रेस पार्टी लॉक डाउन खुलने के बाद उग्र आंदोलन करेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)