Tuesday , July 23 2024
ताज़ा खबर
होम / राज्य / सैथवार मल्ल स्वाभिमान मोर्चा का दीपावली मिलन समाराहों का आयोजन

सैथवार मल्ल स्वाभिमान मोर्चा का दीपावली मिलन समाराहों का आयोजन

कुशीनगर, आमसभा

दीपावली पर्व के मौके पर सैथवार मल्ल स्वाभिमान मोर्चा का दीपावली मिलन समाराहों का आयोजन किया गया. मंच पर विशिष्ट अतिथि के रूप में संतोष कु सिंह(अपर मुख्य अधिकारी, जिला पंचायत, बस्ती), रणजीत सिंह, सकलदेव सिंह, मास्टर राधेश्याम सिंह( प्रदेश अध्यक्ष, किसान मोर्चा, भारतीय समाज पार्टी) श्रीमती उषा सिंह(पूर्व प्रधानाचार्या) गंगा सिंह शस्त्रवार, कमला सिंह सैंथवार, फलाहारी सिंह विद्यमान थे।

कार्यक्रम की शुरुआत लोगों के परिचय से हुआ। सैथवार मल्ल स्वाभिमान मोर्चा के परिचय और कार्यों के विवरण प्रभात सौरभ सिंह ने प्रस्तुत किया। मोर्चा टीम के ओर से त्रिपत बाला जी ने मोर्चा के डिजिटल रूप के बारे में बताया, रत्नेश सिंह जी ने मोर्चा के आर्थिक सहयोग के बारे में विस्तार से बताया, उदय जी ने मोर्चा द्वारा युवा शक्ति को एकजुट करने के प्रयासों की चर्चा की। अरविंद जी ने समाज के इतिहास पर प्रकाश डाला। फौजी नरेंद्र सिंह जी ने युवा शक्ति को शारीरिक बल और क्षमता विकसित करने पर बल दिया। डॉ राजेश सिंह ने समाज के विकास में शिक्षा के महत्व को रेखांकित किया।

बिहार से आये हुए बिहार सैथवार महासंघ के श्री राकेश राव ने बिहार में प्राप्त मूल नाम से आरक्षण हेतु किये गए प्रयासों पर विस्तार से चर्चा किया। उनके साथ आये हुए अन्य लोगों ज्योति नारायन,सुरेश सिंह,गोपाल जी प्रसाद, कमलेश सिंह,राजन सिंह,मंशा सिंह,नरसिंह सिंह इत्यादि ने भी अपने विचारों को रखा, एवम आरक्षण में संशोधन पर हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

मंच पर आसीन महिला शक्ति की प्रतीक पूर्व प्रधानाचार्या श्री उषा सिंह जी ने मोर्चा के उद्देश्यो से सहमति व्यक्त करते हए हर तरह के सहयोग का आश्वासन दिया।

मंचासीन फलाहारी सिंह ने अपने संबोधन में समाज को स्वाभिमान जगाने पर बल दिया, साथ ही समाज की युवा शक्ति के एकजुट होने पर खुशी जाहिर की।

अपने संबोधन में अपर मुख्य अधिकारी श्री संतोष सिंह जी ने समाज के लोगों को अन्य समाज से सीख लेते हुए आपसी एकजुटता बढ़ाने का आह्वान किया। साथ ही शिक्षा के प्रसार पर जोर के साथ साथ कृषि पर निर्भरता को कम करते हुए, व्यापार में भी लोगों को आगे आने का आह्वान किया। साथ ही कुर्मी-मल्ल एवम कुर्मी-सैथवार के नाम से मिल रहे आरक्षण में संशोधन की मांग को जायज ठहराते हुए, इस मुहिम को पूरा समर्थन दिया।

मास्टर राधेश्याम सिंह जी ने समाज की पहचान से जुड़ी इस समस्या पर विस्तार से प्रकाश डाला तथा आरक्षण में संशोघन हेतु अपने द्वारा किये जा रहे प्रयासों पर भी चर्चा की। साथ ही इस मांग को और तेजी से सोशल मीडिया के साथ ही जमीन पर फैलाने पर जोर दिया, जिससे प्रदेश सरकार इस मांग को मानने पर मजबूर हो जाये।

रणजीत सिंह जी(पटखौली) ने भी आरक्षण में संशोधन की मांग को पूरा समर्थन दिया और इस संबंध में प्रयासों को तेज किया जाने की आवश्यकता पर बल देते हुए हर तरह के सहयोग का आश्वासन दिया।

समारोह में श्री हरिओम प्रकाश मल्ल जी को उनके सामाजिक योगदान के लिए शाल और स्मृति चिन्ह के साथ सम्मानित किया गया।

समारोह मे श्री अनूप सिंह,एडवोकेट द्वारा एक प्रस्ताव पारित रखा गया जिसके द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी से मांग की गई कुर्मी-मल्ल और कुर्मी-सैथवार को संशोधित कर सैथवार मल्ल दर्ज किया जाए जिससे समाज के लोगों को मूल नाम से जाति प्रमाण पत्र प्राप्त हो सके। इस प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पास कर दिया गया।

समारोह के अंत मे श्री जितेंद्र सिंह(पूर्व प्रधान) ने समस्त आगंतुकों और स्थानीय आयोजन समिति को धन्यवाद ज्ञापित किया।

समारोह में मोर्चा की ओर से गौरव सिंह, सुधीर सिंह, बृजनंदन सिंह, अजित सिंह, अनिल सिंह, अनिल सिंह, भररोह, डॉ संजय सिंह, राजीव सिंह, आलोक मल्ल, समुद्रगुप्त मल्ल,मनोज सिंह,अभय प्रताप सिंह, प्रभुनारायण सिंह, श्याम प्रताप सिंह, सुधीर कुमार सिंह इत्यादि ने सक्रिय भागीदारी निभाई।

समारोह में देवव्रत सिंह(हरैया), विष्णु प्रताप सिंह,ऋषभ सिंह, जय सिंह(पूर्व प्रधानाचार्य), उदयभान मल्ल(प्रधान) विनय कु मल्ल, अतुल कु सिंह, राधविनोद मल्ल, अवनीश मल्ल, राजेश कु सिंह दुर्गेश कु सिंह, शिवनारायण सिंह, युद्धवीर सिंह, बाबा अभिराम सिंह, विकास सिंह, अजय कु सिंह, ई अभिनव सिंह, मनोज सिंह, फेकू मल्ल(पूर्व प्रधान), राघवेंद्र प्रताप मल्ल, चंद्रिका मल्ल, अनिल सिंह(जिला शासकीय अधिवक्ता), रितेश मल्ल, सुरेंद्र सिंह,एडवोकेट), उदयभान सिंह(हरैया),बैजनाथ सिंह(पूर्व छात्र संघ उपाध्यक्ष, उपेन्द्र सिंह,पवन सिंह, चन्द्रप्रताप नारायण सिंह, सत्यजीत सिंह, प्रिंस सिंह,इंद्रजीत सिंह, फौजी उमेश सहित हज़ारों की संख्या समाज के लोग उपस्थित थे।

समारोह की अध्यक्षता श्री हरिओम प्रकाश मल्ल जी ने किया जब कि संचालन ई राजन सिंह जी ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)