Sunday , July 21 2024
ताज़ा खबर
होम / देश / केजरीवाल ने मिर्च अटैक के पीछे BJP का बताया हाथ, कहा- ‘ये लोग मुझे मरवाना चाहते हैं’

केजरीवाल ने मिर्च अटैक के पीछे BJP का बताया हाथ, कहा- ‘ये लोग मुझे मरवाना चाहते हैं’

नई दिल्ली: 

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल  (Arvind Kejriwal) ने कल अपने ऊपर मिर्च फेंके जाने के पीछे बीजेपी का हाथ बताया है. केजरीवाल ने कहा कि पिछले 2 साल में उनपर 4 हमले हो चुके हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि ये लोग उन्हें मरवाना चाहते हैं. केजरीवाल पर ये हमला दिल्ली सचिवालय के भीतर तब हुआ जब वो अपने चैंबर से बाहर भोजन करने के लिए निकल रहे थे. उधर, केजरीवाल पर मिर्च पाउडर फेंके जाने के विरोध में आम आदमी पार्टी ने आज बीजेपी मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन भी किया. पार्टी का आरोप है कि बीजेपी दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर इस तरह के हमलों की साज़िश कर रही है.

मनीष सिसोदिया बोले- BJP ने रची केजरीवाल की हत्या की साजिश, एलजी को भी थी जानकारी

इससे पहले ‘आप’ के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री और ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल को दिल्ली की जनता के हित में काम करने से रोकने के लिए भाजपा उनकी हत्या कराना चाहती है. सिसोदिया ने मंगलवार को केजरीवाल पर मिर्च पाउडर फ़ेंक कर किए गए हमले का हवाला देते हुए कहा कि हमलावर भाजपा का कार्यकर्ता है.

केजरीवाल पर हमला: बार-बार बयान बदल रहा हमलावर, मेडिकल हिस्ट्री निकालने में जुटी पुलिस

उन्होंने कहा, ‘केजरीवाल को काम करने से रोकने के सभी हथकंडे नाकाम रहने के बाद भाजपा मुख्यमंत्री की हत्या कराना चाहती है. कल की घटना इसी साज़िश का परिणाम है.’ सिसोदिया ने मंगलवार को हमले के समय दिल्ली सचिवालय में भाजपा के एक नेता की मौजूदगी की बात सामने आने पर इसकी भी जांच कराने की मांग की. उन्होंने कहा कि हमलावर के फेसबुक पेज पर मुख्यमंत्री केजरीवाल के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया गया है. उसके फ़ेसबुक पेज पर यह सिलसिला पिछले एक माह से चल रहा था. उसके पेज पर भाजपा के नेताओं की फ़ोटो है.

केजरीवाल पर मिर्च से हमला करने वाले शख्स ने कहा, “वो मेरा टारगेट है और मैं उसे मारना चाहता हूं”

सिसोदिया ने कहा कि मुख्यमंत्री पर हमले के मामले में उपराज्यपाल की ओर से कोई बयान नहीं आया. उन्होंने बताया कि गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने केजरीवाल को फ़ोन कर कहा कि आप पुलिस में शिकायत दर्ज करा दें. उन्होंने पुलिस की जांच के तरीक़े पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि जिस तरह पूछताछ की जा रही है, उससे साफ़ है कि पुलिस द्वारा भाजपा के शीर्ष नेतृत्व के साथ दोस्ती निभाई जा रही है, क्योंकि पूरे घटनाक्रम को देखने से लगता है कि भाजपा के शीर्ष नेताओं को हमले की जानकारी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)