Sunday , October 25 2020
ताज़ा खबर
होम / देश / प्रतिष्ठित जेईई मेन्स 2020 में आकाश इंस्टीट्यूट से रिकॉर्ड 7559 छात्रों ने क्वालिफाई किया

प्रतिष्ठित जेईई मेन्स 2020 में आकाश इंस्टीट्यूट से रिकॉर्ड 7559 छात्रों ने क्वालिफाई किया

– आकाश के 6 छात्र स्टेट टॉपर्स और 6 गर्ल स्टेट टॉपर्स हैं

– 6 आकाशियन टॉप 50 में; जबकि टॉप 100 में 14 और टॉप 500 में 44 छात्र शमिल हैं।

– 572 छात्रों ने 99 पर्सेंटाइल और उससे अधिक अंक हासिल किए, जबकि 2,574 छात्रों ने 95 पर्सेंटाइल और उससे अधिक अंक हासिल किए।

– 3 छात्रों ने 100 पर्सेंटाइल अंक हासिल किए और नेशनल टॉपर बने। 16 छात्रों ने भौतिकी में, 6 छात्रों ने रसायन विज्ञान में और 24 छात्रों ने गणित में 100 पर्सेंटाइल अंक हासिल किए।

आम सभा, भोपाल। प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कराने वाले संस्थानों में देष भर में अग्रणी, आकाश इंस्टीट्यूट से प्रतिश्ठित जेईई मेन्स 2020 परीक्षा में रिकार्ड 7559 छात्रों ने क्वालिफाई किया है। इस परीक्षा मंे 100 पर्सेंटाइल लाने वाले देश भर से कुल 24 छात्रों में से तीन छात्र आकाषियन हैं जो एक षानदार उपलब्धि है और जो आकाश में संकाय, पाठ्यक्रम और प्रशिक्षण की उत्कृश्टता को दर्षाता है।

इस परीक्षा में क्वालिफाई करने वाले कुल छात्रों में आकाश इंस्टीट्यूट के क्लासरूम प्रोग्राम, आकाश डिस्टेंस लर्निंग प्रोग्राम (डीएलपी) और आकाश डिजिटल के छात्र शामिल हैं। 12 आकाशियन को दिल्ली, केरल, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, गुजरात, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान और लद्दाख राज्यों में टॉपर्स होने का गौरव हासिल हुआ है। इन 12 छात्रों में से 6 छात्र स्टेट टॉपर हैं और 6 गर्ल टॉपर्स हैं। जबकि 572 छात्रों ने 99 परसेंटाइल और उससे अधिक अंक हासिल किए तथा 2,574 स्टूडेंट्स ने 95 पर्सेंटाइल और उससे अधिक अंक हासिल किए। तीन छात्रों ने 100 पर्सेंटाइल अंक हासिल किए और नेशनल टॉपर बने; 16 छात्रों ने भौतिकी में; 6 छात्रों ने रसायन विज्ञान में और 24 छात्रों ने गणित में 100 प्रतिशत अंक हासिल किए।

आकाश इंस्टीट्यूट में क्लासरूम कोर्स में टॉप स्कोरर चिराग फालोर (अखिल भारतीय रैंक -12) हैं जिन्होंने 100 पर्सेंटाइल (296/300) अंक हासिल किया है। उन्होंने दिल्ली एनसीटी में भी टॉप किया है। उनके बाद चेन्नई से सूरज श्रीनिवासन (अखिल भारतीय रैंक -34) ने 99.99 पर्सेंटाइल, जालंधर से अव्वल अमिल (अखिल भारतीय रैंक -43) ने 99.99 पर्सेंटाइल, नोएडा से पेरित पालीवाल (अखिल भारतीय रैंक -75) ने 99.99 पर्सेंटाइल, दिल्ली एनसीटी से एरा सारदा (अखिल भारतीय रैंक -79) ने 99.99 पर्सेंटाइल और ग्रेटर नोएडा से शिखर अग्रवाल (अखिल भारतीय रैंक -99) ने 99.99 पर्सेंटाइल अंक हासिल किया है। क्लासरूम प्रोग्राम से परवेज मेहदी ने 96.52 पर्सेंटाइल अंक हासिल किए और केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में शीर्ष स्थान पर रहे।

6 गर्ल टॉपर्स में से, क्लासरूम कोर्स में नामांकित छात्रा एरा सारदा (अखिल भारतीय रैंक -79) हैं, जिन्होंने दिल्ली एनसीटी से 99.99 पर्सेंटाइल हासिल किया। पश्चिम बंगाल से श्रीमंती डे (अखिल भारतीय रैंक -131) ने 99.99 पर्सेंटाइल, मध्य प्रदेश से श्रेया मोघे (अखिल भारतीय रैंक -241) ने 99.98 पर्सेंटाइल और हिमाचल प्रदेश से वंशिता (अखिल भारतीय रैंक -2002) ने 99.83 पर्सेंटाइल हासिल किया है।

छात्रों को बधाई देते हुए और शनदार परिणामों पर बात करते हुए, आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड (एईएसएल) के निदेशक और सीईओ और प्लाक्षा विश्वविद्यालय के संस्थापक और ट्रस्टी आकाश चौधरी ने कहा, ‘‘आकाशियन के जेईई मेन के परिणाम परीक्षा की तैयारी करने वाले क्षेत्र के सर्वोत्तम परिणामों में से एक है। जेईई मेन परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करने वाले हमारे सभी छात्रों को बधाई। इसका श्रेय हमारे छात्रों और शिक्षकों द्वारा किए गए कठिन परिश्रम, साथ ही साथ आकाश इंस्टीट्यूट में प्रदान की जाने वाली परीक्षा की गुणवत्ता पूर्ण तैयारी को भी जाता है। मैं उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाएं देता हूं।’’

बी.ई. / बी.टेक. के लिए जेईई (मेन) परीक्षा एनटीए द्वारा देश में 660 केंद्रों पर 01 सितंबर से 06 सितंबर 2020 के बीच आयोजित की गई थी। इस वर्श इस परीक्षा में बी.ई. / बी.टेक. के लिए कुल 6 लाख उम्मीदवारों ने पंजीयन कराया था।

आकाश इंस्टीट्यूट का उद्देश्य शैक्षणिक सफलता हासिल करने के लिए छात्रों की मदद करना है। इसकी राष्ट्रीय अकादमिक टीम के नेतृत्व में पाठ्यक्रम और सामग्री विकास और षिक्षकों के प्रशिक्षण और निगरानी के लिए एक केंद्रीकृत इन-हाउस प्रक्रिया है। इन वर्षों में, एईएसएल के छात्रों ने विभिन्न मेडिकल और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं, प्रतियोगी परीक्षाओं और एनटीएसई, केवीपीवाई और ओलंपियाड में चयन का ट्रैक रिकॉर्ड बनाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)